यूपी विधानसभा चुनाव: नए चेहरे बचा सकते हैं भाजपा की साख

0
742
YogiAdityanath

प्रकाश सिंह

गोंडा: विधानसभा चुनाव काफी करीब है। सभी पार्टियां अपनी तैयारी में जुटी हुई हैं। ऐसे में उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 के परिणाम भाजपा की दीर्घकालिक राजनीति पर असर डालेंगे। यह परिणाम न केवल योगी आदित्यनाथ की राजनीति कद तय करेंगे, बल्कि इनका असर लोकसभा चुनाव 2024 पर भी पड़ना तय है। यही कारण है कि भाजपा इस चुनाव में जीत हासिल करने में कोई कसर बाकी नहीं छोड़ना चाहती। बता दें भाजपा भले ही विकास के लाख दावे कर रही हो, लेकिन उसके कुछ ऐसे नेता व विधायक हैं जिन्होंने अपने क्षेत्र वास्ता ही खत्म कर रखा है। क्षेत्र की जनता से कभी मिलने तक नहीं गए। उनका हाल नहीं जाना।

क्षेत्र की जनता ऐसे विधायकों से काफी नाखुश नजर आ रही है। ऐसे में अगर भाजपा कोई उभरता चेहरा मैदान में उतारे तो हो सकता है भाजपा की सीट निकल जाए, अन्यथा भाजपा की कुछ सीटें फंसती नजर आ रही हैं। बताते चलें कि उत्तर प्रदेश में 18वीं विधानसभा के चुनाव वर्ष 2022 में प्रस्तावित है। 2017 में निर्वाचित वर्तमान विधानसभा का कार्यकाल 14 मई, 2022 को समाप्त होगा। 2016 के अनुसार भारतीय संसद और राज्य विधानसभाओं में प्रतिनिधित्व के मामले में भाजपा भारत की सबसे बड़ी राजनीतिक पार्टी है और प्राथमिक सदस्यता के मामले में यह दुनिया का सबसे बड़ा दल है। गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश के अलग-अलग क्षेत्रों के चुनाव के लिहाज से अलग अलग अहमियत है और हर क्षेत्र के अपने अलग-अलग मुद्दे और समस्याएं हैं। अगर बात की जाए गोंडा जिला की तो जिले में कुल 7 विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र आते हैं।

इसे भी पढ़ें: विधायक ने किया महिला चिकित्सालय का निरीक्षण

(1) मेहनौन
(2) गोंडा
(3) कटरा बाजार
(4) करनैलगंज
(5) तरबगंज
(6) मनकापुर
(7) गौरा

यहां की कुछ सीटें ऐसी हैं जहां पर सपा व भाजपा की विशेष टक्कर होगी। वहीं अगर भाजपा कोई नया उभरता संघषशील नाम जनता के बीच ला दे तो हो सकता है कि भाजपा प्रचंड बहुमत से विजई घोषित हो, अन्यथा मौजूदा हालात भाजपा के लिए मुश्किलों भरा है। क्योंकि जिले के कुछ विधायक ऐसे हैं जिन से जनता काफी न खुश नजर आ रही है। ऐसे में इस जिले में पुराने चेहरे के साथ भाजपा की जीत मुश्किल नजर आ रही है।

विशेष अगर बात की जाए करनैलगंज विधानसभा की तो यहां पर भाजपा की सीट 90% तक फंसती दिख रही है। कई जगह की जनता वर्तमान विधायक से काफी नाखुश नजर आ रही है। क्षेत्रीय सर्वे के अनुसार यहां से सपा की सीट पूर्ण बहुमत से निकलती नजर आ रही है।

इसे भी पढ़ें: भाजपा ने वरुण और मेनका गांधी के कतरे पर

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here