पंडित गिरधारी लाल मिश्र ने किया श्री रामलीला महोत्सव का आयोजन

0
167
Ramlila staged

प्रकाश सिंह

गोंडा: हरि अनंत हरि कथा अनंता। कहहिं सुनहिं बहुबिधि सब संता॥ भगवान अनंत हैं, और उनकी कथाएं भी अनंत है। भगवान का जितना भी सुमिरन किया जाए, उनके बारे में जितना भी जानने की कोशिश की जाए वह कम पड़ जाती है। कम इसलिए पड़ जाती है क्योंकि जितना उनके बारे में जानने की कोशिश की जाती है, उत्सुकता उतनी ही बढ़ती जाती है। पहले के समय में इसीलिए रामलीला का मंचन किया जाता था। इसमें सभी वर्ग के लोग शामिल होते थे और भगवान श्री राम की लीला का रसपान करते थे। अब यह परंपरा खत्म सी होती नजर आ रही है। वहीं कुछ लोग हैं, जो इसे जीवंत किए हुए हैं। गोंडा जनपद के विकासखंड परसपुर में आने वाले बिशुनपुर कला ग्रामसभा में खंटवार पुरवा गांव के हनुमान मंदिर पर पंडित गिरधारी लाल मिश्र द्वारा भव्य रामलीला महोत्सव का आयोजन किया गया।

Ramlila staged

इस रामलीला महोत्सव में भारी कमेटी ने भाग लिया। वही क्षेत्रीय जनता की काफी भीड़ राम लीला देखने पहुंची थी। राम लीला कमेटी के अध्यक्ष पंडित कैलाश नाथ मिश्र, कोषाध्यक्ष पंडित उदय भान मिश्र, संयोजक कृष्ण कुमार मिश्र (मास्टर), मंत्री डॉ. जगदेव पांडे, संगठन मंत्री संजय मिश्र, भवन व्यवस्थापक माधव राज मिश्र, हुकुमचंद मिश्र, कन्हैया मिश्र, सोनू मिश्र, उदय नरायन मिश्र, अवध नरायन मिश्र, पं सूरज मिश्र, भोलेनाथ मिश्र, अंकुर मिश्र, लक्ष्मी नरायन मिश्र, दिनेश मिश्र व समस्त ग्रामवासी व क्षेत्रवासी मित्रगण आदि मौजूद रहे।

Ramlila staged

बता दें कि पंडित गिरधारी लाल मिश्र सरीखे कुछ लोग हैं जो पुरानी परंपराओं को आज भी जीवंत रखे हुए है। टीवी में राम पर कई सीरियल आते हैं, लेकिन रामलीला का वास्तव में जो मंचन है, उसका अपना अलग ही आनंद है। शायद यही वजह भी है कि कड़ाके की ठंड के बावजूद भी लोग रजाई छोड़कर, इसका अनंद उठाने पहुंच रहे हैं।

इसे भी पढ़ें: सनातन धर्म ने आध्यात्मिक राह दिखाने में निभाई भूमिका

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें