IPL 2021 Final : चेन्नई ने चौथी बार जीती आईपीएल ट्राफी, कोलकाता को 27 रनों से दी मात

0
312
IPL 2021 Final
IPL 2021 Final : चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) ने आईपीएल 2021 के फाइनल मुकाबले (IPL 2021 Final) में कोलकाता नाइटराइडर्स (KKR) को 27 रनों से हराकर चौथी बार आईपीएल का खिताब अपने नाम कर लिया। इससे पहले चेन्नई ने 2010, 2011 और 2018 में ट्रॉफी जीती थी। यह बतौर कप्तान धोनी का 300वां मैच था जिसे उन्होंने अपने लिए यादगार बना दिया। हाईवोल्टस फाइनल मुकाबले में KKR ने टॉस जीतकर CSK को बल्लेबाजी के लिए आमंत्रित किया। टॉस गंवाकर चेन्नई ने पहले बल्लेबाजी करते हुए फाफ डुप्लेसी (Faf du Plessis) की 86 रनों की पारी की बदौलत KKR के सामने 193 रनों का विशाल लक्ष्य खड़ा किया। जवाब में KKR की टीम अच्छी शुरूआत के बावजूद 20 ओवरों में 9 विकेट गंवाकर 165 रन ही बना पाई और CSK ने इस खिताबी मुकाबले को जीत लिया।
यह भी पढ़े- टाॅप पर पहुंचीं चेन्नई
फॉफ डुप्लेसी ने खेली बेहतरीन पारी
टॉस गंवाकर बल्लेबाजी करने उतरी CSK को उसके ओपनरों ऋतुराज गायकवाड़ (Ruturaj Gaikwad) और फॉफ डुप्लेसी ((Faf du Plessis) ने अच्छी शुरूआत दिलाई। दोनों ओपनरों ने आक्रमक रूख दिखाते हुए मैदान के चारों तरफ चौके-छक्के बटोरे। CSK का पहला विकेट ऋतुराज गायकवाड़ (Ruturaj Gaikwad) के रूप में गिरा। ऋतुराज को सुनील नरेन ने आउट किया। ऋतुराज के आउट होने के बाद आये उथप्पा ने डुप्लेसी के साथ मिलकर चेन्नई की पारी को आगे बढ़ाया। दोनों खिलाड़ियों ने KKR के स्पिनरों को निशाना बनाया। विशेष रूप से शाकिब उल हसन के ओवरों को CSK के बल्लेबाजों ने टारगेट किया। सुनील नरेन ने घातक दिख रहे उथप्पा को आउट कर KKR को दूसरी सफलता दिलाई। उथप्पा ने 15 गेंदों में 31 रनों की पारी खेली। डुप्लेसी ने इस दौरान अपना अर्धशतक भी पूरा किया। इसके बाद आये मोईन अली ने भी अपने हाथ खोलते हुए कुछ आक्रमक शॉट लगाकर CSK के स्कोर को तेजी से आगे बढ़ाया। दूसरे छोर पर डुप्लेसी भी KKR के गेंदबाजों की धुनाई कर रहे थे। पारी की आखिरी गेंद पर डुप्लेसी आउट हुए। डुप्लेसी ने 59 गेंदों पर 86 रनों की पारी खेली। अपनी इस पारी के दौरान डुप्लेसी ने तीन छक्के व सात चौके जड़े। इस तरह CSK ने KKR के सामने 193 रनों का विशाल लक्ष्य खड़ा किया।
यह भी पढ़े- हर्षल पटेल ने लगाई हैट्रिक
KKR को मिली तेज शुरूआत
193 रनों का पीछा करने उतरी KKR को उसके ओपनरों वेंकटेश अय्यर (50) और शुभमन गिल (51) ने तेज शुरूआत दिलाई। दोनों बल्लेबाजों ने CSK के गेंदबाजों की जमकर खबर ली। जब वेंकटेश अय्यर और शुभमन गिल क्रीज पर थे तब तक मैच पूरी तरह KKR के पक्ष में था। ऐसे समय धोनी ने शार्दुल ठाकुर को गेंदबाजों के लिए उतारा। शार्दुल को गेंदबाजी के लिए लाना CSK के लिए टर्निग प्वाइंट साबित हुआ। शार्दुल ने एक ही ओवर में वेंकटेश अय्यर और नीतीश राणा के विकेट झटककर CSK की मैच में वापसी करा दी। इसके अगले ही ओवर में सुनील नरेन को हेजलवुड को चलता किया और KKR को तीसरा झटका दिया। शुभमन गिल के रूप में KKR का चौथा विकेट भी जल्द ही गिर गया। गिल को दीपक चाहर ने आउट किया। शानदार शुरुआत के बावजूद KKR ने 4 ओवरों के अंदर 4 विकेट गिर गए जिसके चलते KKR दबाव में आ गई। KKR इस दबाव से उबर नहीं सकी और पूरी टीम निर्धारित 20 ओवरों में 9 विकेट खोकर 165 रन ही बना सकी। इस तरह चेन्नई ने 27 रनों से मैच जीतकर चौथे आईपीएल खिताब पर कब्जा कर लिया। चेन्नई की तरफ से शार्दुल ठाकुर ने 3 विकेट किए जबकि हेजलवुड व जड़ेजा को दो-दो, दीपक चाहर और ब्रावो को एक-एक विकेट से संतोष करना पड़ा।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here