लौटते मानसून और बढ़ती मंहगाई ने बिगाड़ा रसोई का बजट

0
94
Inflation

प्रकाश सिंह

लखनऊ: बिन मौसम बारिश ने जहां किसानों की फसलों का नुकसान पहुंचाया है तो वहीं बढ़ती मंहगाई ने आम आदमी के बजट को बिगाड़ दिया है। मंहगाई का आलम यह है कि सेब के रेट में टमाटर बिक रहे हैं। बाजार में इस समय सेब 30 से 40 रुपए प्रति किलो मिल जाएगा मगर बात की जाए टमाटर की तो वह 80 से 100 रुपए किलो ही मिलेगा। वहीं टमाटर के बाद अब प्याज के दाम ने भी उछाल लगाई है। जो प्याज 25 से 30 किलो मिल रही थी वह अब 60 से 70 रुपए प्रति किलो के हिसाब से मिल रही है।

Inflation

अन्य सब्जियां भी मंहगी हो चुकी हैं जिससे आम आदमी की थाली सब्जी गायब होती दिख रही है। आसमान छूते सब्जियों के भाव अब लोगों को मायूस करने लगे हैं। वहीं बढ़ती मंहगाई पर व्यापारियों का कहना है कि पेट्रोल डीजल के दाम बढ़ने के का असर सब्जियों पर पड़ रहा है। भाड़ा बढ़ने का असर टमाटर के दाम दाम पर पड़ा है क्योंकि यह बाहर से आता है। इस समय टमाटर काफी दूर से आने के कारण भाड़ा ज्यादा लगता है और यही सब वजह है कि टमाटर के भाव काफी ज्यादा बढ़ चुके हैं, जिससे कि आम आदमी को छौक लगाने में काफी ज्यादा कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है।

इसे भी पढ़ें: कांग्रेस विधायक ने सरकारी कर्मचारी की फोड़ी आंख

लोग अपने बजट के हिसाब से जो पहले 1 किलो टमाटर लाते थे अब आधा किलो में ही अपना काम चला रहे हैं। बता दें कि प्याज का रेट जहां पहले 20 से 30 था तो अब 60 से 70 रुपए प्रति किलो बिक रहा है। भिंडी, तरोई अभी तक 15 से 20 रुपए किलो बिकती थी वह 30 से 40 रुपए किलो बिकने लगी है। ज्ञात हो कि मंहगाई का असर दुकानदारों पर भी देखा जा रहा है। रेहड़ी दुकानदारों का कहना है कि सब्जियां मंहगी होने के कारण उनके सामने पूंजी की दिक्कत आ गई है।

इसे भी पढ़ें: जय प्रताप सिंह ने जिला चिकित्सालय में किया धनवन्तरि सभागार का लोकार्पण

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here