प्रधान के बेटे ने दोस्तों के साथ मिलकर किया महिला से गैंगरेप

0
1069
Rape in Rashtrapati Bhavan

लखनऊ: योगी सरकार महिला सुरक्षा की चाहे जितने दावे कर ले, लेकिन सामने आ रहे मामले इन दावों पर पानी फेरने के लिए काफी है। समाज में रेप वह कलंक है जो सदियों से चला आ रहा है, मगर हाल के दिनों में गैंगरेप की घटनाएं लगातार बढ़ती जा रही हैं। इससे यह लगने लगा है कि लोगों की मानसिकता कितनी बदल गई है। ऐसी ही दुष्कर्म की घटना उत्तर प्रदेश के बड़ौत से सामने आई है, जहां महिला का लिफ्ट देने बहाने उसके परिचित प्रधान के बेटे ने अपने तीन दोस्तों के साथ मिलकर गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया है। हालांकि शिकायत मिलने पर पुलिस ने चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

जानकारी के मुताबिक बिनौली के पास रहने वाली महिला जो अब बड़ौत में रहती है। पीड़िता के मुताबिक मंगलवार को बड़ौत के दिल्ली बस स्टैंड पर किसी काम से गई हुई थी। शाम को लौटते वक्त जिवाना थाना रमाला निवासी सन्नी, रितिक, शिवांक अपने दाहा निवासी साथी आशू उर्फ भूरा के साथ मिले। ये चारों स्कार्पियो गाड़ी से थे। सन्नी ने महिला को घर छोड़ने की बात कही। पीड़िता के मुताबिक वह सन्नी को पहले से जानती थी, इसलिए वह गाड़ी में बैठने को तैयार हो गई।

इसे भी पढ़ें: खौफ में आईं अफगानी महिलाएं

महिला का आरोप है कि चारों ने गाड़ी दाहा से आगे एक मुर्गी फार्म पर ले गए और वह इन लोगों ने जबरन उसके साथ गैंगरेप किया। महिला के मुताबिक उसने बचने का पूरा प्रयास किया लेकिन सुनसान जगह होने के नाते उसकी आवाज किसी के कानों तक नहीं गई। महिला के लाख प्रयासों के बाद चारों नहीं माने और बारी बारी से उसके साथ गैगरेप किया। इसके बाद चारों ने महिला को बदहवास हालत में बड़ौत-बुढ़ाना मार्ग पर कृष्णा नदी के पास गाड़ी से धक्का देकर फरार हो गए।

पीड़िता ने अपने साथ हुए हैवानियत की सूचना अपने परिचित को दी। महिला की शिकायत पर दोघट थाने में चारों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। थानाध्यक्ष रविरतन सिंह के मुताबिक चारों आरोपियों सन्नी, शिवांक, रितिक निवासी जिवाना थाना रमाला और आशू उर्फ भूरा निवासी दाहा को गिरफ्तार कर लिया गया है। बता दें कि रितिक जीवाना ग्राम प्रधान का बेटा है।

इसे भी पढ़ें: फातिमा अफगानिस्तान में फंसी

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें