Kahani: धन नहीं चैन चाहिए

Kahani: एक गरीब व्यक्ति था। वह प्रतिदिन समीप के मंदिर में जाकर वहां साफ-सफाई करता और फिर अपने काम पर चला जाता था। अक्सर वो अपने प्रभू से कहता कि…

Kahani: मानव चरित्र पर संत का ज्ञान

Kahani: एक बार एक जिज्ञासु व्यक्ति ने एक संत से प्रश्न किया, महाराज, रंग रूप, बनावट प्रकृति में एक जैसे होते हुए भी कुछ लोग अत्यधिक उन्नति करते हैं। जबकि…

Kahani: धोखेबाज़ किसी के मित्र नहीं होते

Kahani: एक बार की बात है। एक लोमड़ी और खरगोश दोस्त थे। वह साथ में ही खेलते, खाते और रहते। जंगल में एक बार एक बाघ आया और उसने खरगोश…

Kahani: अहंकारी राजा को समझ आया भगवान का काम

Kahani: एक बार एक राजा ने अपने दरबारी मंत्रियों से पूछा, प्रजा के सारे काम मैं करता हूँ, उनको अन्न मैं देता हूँ, रोजगार मैं देता हूँ। उनकी बेटियों के…

Kahani: लालची दोस्त और जिन्न

Kahani: एक गांव में रामू नाम का एक लड़का रहता था। वह रोज लकड़ी काटने जंगल में जाता था। उसका दोस्त उसकी लाई हुई लकड़ियों को बेचता था। एक बार…

Pauranik Katha: कौन थे जामवन्त, जानें उनके बारे में

Pauranik Katha: जामवन्त (Jamvant) को ऋक्षपति कहा जाता है। यह ऋक्ष बिगड़कर रीछ हो गया जिसका अर्थ होता है भालू अर्थात भालू के राजा। लेकिन क्या वे सचमुच भालू मानव…

Kahani: समय बड़ा बलवान

Kahani: एक बार अमेरिका में कैलीफोर्निया की सड़कों के किनारे पेशाब करते हुए देख एक बुजुर्ग आदमी को पुलिसवाले पकड़ कर उनके घर लाए और उन्हें उनकी पत्नी के हवाले…

Other Story