राष्ट्रीय लोकदल के चीफ चौधरी अजित सिंह का कोरोना से निधन

0
520
Ajit Singh

नई दिल्ली। कोरोना के कहर से कोई वर्ग अछूता नहीं रहा गया है। यह महामारी ने हमसे बहुत कुछ छीन रहा है। राष्ट्रीय लोकदल के अध्यक्ष व पूर्व केंद्रीय मंत्री चौधरी अजीत सिंह (Chaudhary Ajit Singh) का आज कोरोना संक्रमण से निधन हो गया है। 82 वर्षीय चौधरी अजीत सिंह बीते दिनों कोरोना से संक्रमित हो गए थे। दो दिन पहले तबीत बिगड़ने पर उन्हें गुरुग्राम के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां इलाज के दौरान आज उनका निधन हो गया है। अजीत सिंह की निधन की जानकारी उनके बेटे जयंत चौधरी ने ट्वीट करके दी है।

जानकारी के अनुसार अजित सिंह की 20 अप्रैल को कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी।उनके निधन की जानकारी देते हुए जयंत चौधरी ने लिखा है कि दुख और महामारी के काल में हमारी प्रार्थना है कि अपना पूरा ध्यान रखें, संभव हो तो घर में ही रहें और सावधानी जरूर बरतें। इससे देश में सेवा कर रहे डॉक्टर व स्वास्थ्य कर्मचारियों को भी मदद मिलेगी। ये चौधरी साहब को आपकी सच्चा श्रदांजलि होगी। चौधरी अजीत सिंह के निधन की खबर से राजनीतिक गलियारों में शोक की लहर दौड़ गई है। चौधरी अजीत सिंह के यूं अचानक चले जाने से सभी स्तब्ध हैं। समाज के हर वर्ग से लोग ट्वीट कर अपनी शोक संवेदनाएं व्यक्त कर रहे हैं।

इसे भी पढ़ें: प्रधान वैज्ञानिक सलाहकार ने चेताया : कोरोना की तीसरी लहर भी आयेगी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर अजित सिंह के निधन पर दुख जताया है। प्रधानमंत्री ने कहा है कि पूर्व केंद्रीय मंत्री चौधरी अजित सिंह जी के निधन से अत्यंत दुख हुआ है। वे हमेशा किसानों के हित में समर्पित रहे। उन्होंने केंद्र में कई विभागों की जिम्मेदारियों का कुशलतापूर्वक निर्वहन किया। शोक की इस घड़ी में मेरी संवेदनाएं उनके परिजनों और प्रशंसकों के साथ हैं। ओम शांति!” बता दें कि चौधरी अजीत सिंह वर्ष 1986 में अपने राजनीतिक कॅरियरी की शुरुआत की थी। वह किसानों के लोकप्रिय नेताओं में से एक थे।

इसे भी पढ़ें: आरबीआई ने ग्राहकों को दी बड़ी राहत, KYC नियमों में दिसंबर तक दी ढील

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें