कोरोना ने तोड़े सारे रिकॉर्ड, अप्रैल में सबसे ज्यादा संक्रमितों की गई जान

0
290
Corona virus

नई दिल्ली। कोरोना वायरस की दूसरी लहर ने भारत की पूरी तैयारी पर पानी फेर दिया है। इस समय पूरे भारत में तबाही मची हुई है। इस महामारी से अप्रैल में ही यहां 48 हजार से ज्यादा कोरोना संक्रमितों की मौत हो गई है। इस वायरस की चपेट में आने से रोजाना दिन पैतींस सौ से ज्यादा लोगों की मौत हो रही है। सालभर के अंदर देशभर में अब तक 2 लाख 11 हजार नागरिक अपनी जान गंवा चुके हैं। मतलब अब तक हुई कुल मौतों में से 23 फीसदी लोगों की जान सिर्फ अप्रैल 2021 में हुई है। जबकि अभी भी कोरोना का तांडव जारी है और विशेषज्ञों की मानें तो 10—15 दिन में कोरोना का संक्रमण अपने पीक पर पहुंचेगा।

corona

स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से जारी आंकड़ों के मुताबिक 1 से 30 अप्रैल तक देशभर में कुल 48,926 कोरोना मरीजों की मौत हुई है। वहीं 31 मार्च, 2021 की रात तक देश में एक लाख 62 हजार 927 संक्रमितों की मौत हुई थी। जबकि 30 अप्रैल की रात तक यह आंकड़ा बढ़कर 2 लाख 11 हजार 853 पर पहुंच गया। मतलब अप्रैल माह में कोरोना की चपेट में आने से करीब 50 हजार लोगों की जान चली गई। वहीं इससे पहले मार्च में 5,876 मरीजों की मौत हुई थी।

इसे भी पढ़ें: कोरोना की चपेट में आए बाहुबली नेता शहाबुद्दीन की मौत, जेल प्रशासन ने नहीं की पुष्टि

1 दिन में 4 लाख से अधिक मिले कोरोना पॉजिटिव

देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। पिछले 24 घंटे के बीच देशभर में कोरोना संक्रमण के रिकॉर्ड तोड़ मामले सामने आए हैं। ऐसा पहली बार हुआ है जब 1 दिन में 4 लाख से अधिक व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। संक्रमितों के इन आंकड़ों से न सिर्फ भारत का रिकॉर्ड टूटा है बल्कि ग्लोबल रिकॉर्ड भी टूट गया है। गौरतलब है कि देश में अबतक कुल एक करोड़ 91 लाख 64 हजार 969 लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं। अनुमान है जल्द ही यह आंकड़ा 2 करोड़ के पार पहुंच जाएगा। बता दे कि 19 दिसंबर, 2020 को संक्रमितों की कुल संख्या 1 करोड़ के पार और 19 अप्रैल को 1.5 करोड़ से अधिक पहुंच गए थे।

इसे भी पढ़ें: कोरोना का कहर: यूपी में 10 मई तक सभी स्कूल-कॉलेज में बंद, ऑनलाइन क्लास पर भी रोक

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here