‘बाबा का ढाबा’ वाले कांता प्रसाद ने की आत्महत्या की कोशिश, ICU में भर्ती

0
444
Baba Dhaba, Kanta Prasad

नई दिल्ली: यूट्यूबर गौरव वासन की वजह से रातोंरात फेमस होने वाले ‘बाबा का ढाबा’ चलाने वालें कांता प्रसाद की तबीयत बिगड़ गई है। उन्हें इलाज के लिए सफदरजंग अस्पताल में भर्ती कराया गया है। यहां उनकी हालत नाजुक बताई जा रही है। 81 वर्षीय कांता प्रसाद की हालत नींद की गोलियां खाने की वजह से बिगड़ी है। शुरुआती जांच में पुलिस ने अंदेशा जाहिर की है कि कांता प्रसाद ने नींद की ज्यादा गोलियां खाकर आत्महत्या करने का प्रयास किया है। वहीं कांता प्रसाद की पत्नी की मानें तो उन्होंने दिसंबर 2020 में रेस्टोरेंट खोला था, जो चला नहीं और उसकी वजह से उन्हें काफी नुकसान हुआ है।

रेस्टोरेंट बंद होने की वजह से कांता प्रसाद काफी परेशान चल रहे थे। वहीं डीसीपी साउथ अतुल ठाकुर के मुताबिक कांता प्रयाद के बेटे कर्ण ने पुलिस को बताया है कि वह गुरुवार की रात को शराब पीने के बाद नींद की गोलियां गा लीं, जिसके चलते उनकी हालत बिगड़ गई। इलाज के लिए उन्हें सफदरजंग अस्पताल ले जाया गया, जहां उन्हें आईसीयू में भर्ती किया गया है।

Baba Dhaba, Kanta Prasad

यह है मामला

पुलिस के मुताबिक गुरुवार देर रात करीब 11.15 बजे सफदरजंग अस्पताल से सूचना मिली कि यहां एक शंख्स गंभीर हालत में लाया गया है, जिसने नींद की गोलियां खाई हैं। पुलिस के पहुंचने पर बुजुर्ग शख्स की पहचान बाबा का ढाबा वाले कांता प्रसाद के रूप में हुई। पुलिस की पूछताछ में कांता प्रसाद की पत्नी ने बताया कि दिसंबर 2020 में कांता प्रसाद ने मालवीय नगर इलाके में किराए का घर लेकर रेस्टोरेंट खोला था। लेकिन यह चल नहीं पाया। उन्होंने बताया कि दुकान का किराया एक लाख रुपए महीना था, लेकिन रेस्टोरेंट से कुल कमाई मात्र 30 हजार रुपए ही हो पा रही थी। इसके चलते रेस्टोरेंट को बंद करना पड़ गया था। पिछले कुछ दिनों से दोबारा से ढाबा शुरू करना पड़ा।

इसे भी पढ़ें: पुलिस को उम्मेद पहलवान की तलाश, दंगा भड़काने का आरोप

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें