अयोध्या में 400 करोड़ रुपये की लागत से बनेगा अंतरराष्ट्रीय स्तर का बस अड्डा

0
322
Earthquake in Ayodhya

लखनऊ: अयोध्या राम मंदिर निर्माण को लेकर विपक्ष की तरफ से भले ही माहौल बनाया जा रहा हो, पर धर्म नगरी अयोध्या का विकास योगी सरकार की प्राथमिकताओं में से एक है। इसी के तहत सोमवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट बैठक में अयोध्या को लेकर बड़ा फैसला लिया गया है। इसके तहत अयोध्या में करीब 400 करोड़ रुपए की लागत से अंतरराष्ट्रीय स्तर का एक बस अड्डा बनाया जाएगा। जिसका विस्तार नौ एकड़ क्षेत्र में होगा। बैठक खत्म होने के बाद राज्य सरकार के कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा कि अयोध्या में भव्य राम मंदिर का निर्माण चल रहा है और ऐसे में वहां दूर-दूर से श्रद्धालु आएंगे। इस बात को ध्यान में रखते हुए कैबिनेट बैठक में अयोध्या में अंतरराष्ट्रीय स्तर के एक बस अड्डे के निर्माण को मंजूरी दी गयी है।

सिद्धार्थ नाथ सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि इस बस अड्डे के लिए संस्कृति विभाग की नौ एक एकड़ जमीन को परिवहन विभाग को दिया जाएगा। उन्होंने कहा करीब 400 करोड़ रुपए की लागत से बनने वाले इस बस अड्डे पर यात्रियों को सभी आवश्यक सुविधाएं मिलेंगी। साथ ही इस बस अड्डे से प्रदेश के सभी मुख्य शहरों से आने वाले यात्रियों को बस सेवा उपलब्ध रहेगी। उन्होंने बताया कि मंत्रिमंडल की बैठक में अयोध्या-सुल्तानपुर मार्ग पर फोर लेन का फलाईओवर बनाने को भी मंजूरी दी गयी है। इस डेढ़ किलोमीटर लंबे फलाईओवर की लागत बीस करोड़ रुपये से अधिक आने की उम्मीद है।

इसे भी पढ़ें: मंदिर की जमीन में करोड़ों का खेल, जानें सच्चाई

उन्होंने बताया कि बुलंदशहर के अनूपशहर में बस अड्डे के निर्माण और प्रयागराज में जीटी रोड पर फोर लेन के फलाईओवर के निर्माण को भी स्वकृति दे दी गई है। इसी के साथ उन्होंने बताया कि जनपद प्रभारी मंत्रियों को जून-जुलाई माह में ब्लॉक स्तर पर प्रवास करना होगा। इस प्रवास के दौरान मंत्री क्षेत्र के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों और प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों का निरीक्षण कर वह की व्यवस्थाओं की जानकारी लेंगे। साथ ही मंत्री प्रदेश सरकार की विकास योजनाओं के बारे में जनता से जानकारी लेंगे। उन्होंने कहा कि इसी तहत मंत्रियों को 21 जून को योग दिवस पर अपने प्रभार वाले क्षेत्र में आयोजन से जुड़ना होगा। 23 जून से छह जुलाई तक प्रदेश में पौधारोपण अभियान चलेगा।

इसे भी पढ़ें:  पं. युगल किशोर शुक्ल के नाम पर होगा पुस्तकालय

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें