‘शूटर दादी’ Chandro Tomar का इलाज के दौरान निधन, कोरोना से थीं संक्रमित

0
221
Chandro Tomar

नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस का कहर बदस्तूर जारी है। ऐसे में जहां अधिकत्तर लोग इलाज के अभाव में मर रहे है, तो वहीं संक्रमण की चपेट में आए लोगों का भी इलाज के दौरान मौत का सिलसिला जारी है। शूटर दादी के नाम से मशहूर निशानची चंद्रो तोमर (Chandro Tomar) का कोरोना वायरस के संक्रमण के चलते निधन हो गया है। कोरोना टेस्ट पॉजिटिव आने पर और सांस लेने में परेशानी के चलते 27 अप्रैल को उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था। ‘शूटर दादी’ के नाम से मशहूर चंद्रो तोमर ने वरिष्ठ नागरिक वर्ग में कई पुरस्कार भी हासिल किए, जिसमें स्त्री शक्ति सम्मान भी शामिल है जिसे खुद राष्ट्रपति ने भेंट किया था।

गौरतलब है चंद्रो तोमर (Chandro Tomar) ने जब निशानेबाजी को चुना तब उनकी उम्र 60 वर्ष से ऊपर थी। बावजूद इसके उन्होंने कई राष्ट्रीय प्रतियोगिताएं जीतीं, जिसके चलते उनके ऊपर एक फिल्म भी बनाई गई। चंद्रो तोमर विश्व की सबसे उम्रदराज निशानेबाज मानी जाती है। चंद्रो तोमर ने अपनी बहन प्रकाशी तोमर के साथ कई प्रतियोगिताओं में हिस्सा लिया। उनकी बहन प्रकाशी तोमर भी नाम दुनिया की उम्रदराज महिला निशानेबाजों में शामिल है।

इसे भी पढ़ें: वरिष्ठ पत्रकार रोहित सरदाना का निधन, कोरोना वायरस से थे संक्रमित

बता दें कि चंद्रो तोमर के निशानेबाजी पर घर के पुरुषों ने आपत्ति जताई, लेकिन उनके बेटों, बहुओं और पोते पोतियों ने उनका पूरा साथ दिया। इससे वह घर से निकलकर पास के रेंज में अभ्यास करने के लिए पहुंच पाईं। ‘दादी’ ने एक बार खेल अपनाने के बाद फिर उन्होंने पीछे मुड़कर नहीं देखा। उन्होंने निशानेबाजी की कई प्रतियोगिताओं में पदक जीते।

इसे भी पढ़ें: Corona: वक्त है संभल जाइए, अस्पताल के हालात बहुत डरावने हैं, देखें तस्वीरों में…

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here