भ्रष्टाचार के गड्ढे में समा गया आटो, सड़क धंसने से खतरे में आई जान 

0
87
road

जयपुर। भ्रष्टाचार से मुक्ति का दावा लगभग हर सरकारें करती रहती हैं। लेकिन शायद ही किसी राज्य की सरकार ऐसी हो जहां रिश्वतखोरी और भ्रष्टाचार न हो। बस इसका खुलासा तब होता है जब कोई बड़ी घटना हो जाती है। ऐसी ही घटना राजस्थान की राजधानी जयपुर में देखने को मिला है। जहां सरकार के सारे विकास के दावे अचानक धंसी सड़क के गड्ढे में समा गए हैं। यह घटना शनिवार सुबह की है। यहां मुख्य मार्ग की सड़क आज अचानक धंस गई और पालक झपकते ही सड़क बड़े गड्ढे में तब्दील हो गई। जिस वक़्त यह सड़क धंसी उस समय यहां से एक आटो गुजर रहा थाजो उसके आगोश में आ गया। इस हादसे में आटो चालक और उसमें सवार एक युवती चोटिल हो गई। हैरत की बात यह है कि अब यहां 25 फीट गहरा और 30 फीट चौड़ा गड्ढा बन गया है।

जानकारी के मुताबिक यह सड़क शासन सचिवालय से महज एक किमी पहले चौंमू हाउस सर्किल के पास धंसी है। गनीमत रहा कि जब यह हादसा हुआ उस समय ट्रैफिक काफी कम था, नहीं तो बड़ी घटना हो सकती थी। आफिस टाइम में इस सड़क पर ट्रैफिक काफी बढ़ जाता है। फिलहाल यह सड़क यहां के प्रशासनिक तंत्र पर बड़ा धब्बा है। क्योंकि जब यहां की राजधानी में यह हाल है तो बाकी जगहों की क्या स्थिति होगी इसका सहज अंदाजा लगाया जा सकता है। सड़क जिसे भारी मशीनों से दबा कर बनाया जाता हैवह इस तरह धंस जाएगीइसका किसी को अंदेशा नहीं था।

ज्ञात हो कि लोक निर्माण विभाग भ्रष्टाचार की अकंठ में दलदल में डूबा हुआ है। इसका जीता जागता प्रमाण उत्तर प्रदेश है। यहां योगी सरकार बनते ही उन्होंने एलान कर दिया था कि छह महीने के अंदर ही प्रदेश की सड़कें गड्ढा मुक्त हो जाएंगी। लेकिन अब उनका कार्यकाल बीतने वाला है मगर सड़कों की स्थिति जस की तस बानी हुई है। कमीशनखोरी के चक्कर में जो काम हुए भी हैंवे टिकाऊ नहीं हैं।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here