राफेल डील को लेकर केंद्र सरकार पर हमलावर हुई कांग्रेस, दागे कई सवाल

0
442
rafale-jets

नई दिल्ली: राफेल डील में कथित भ्रष्टाचार की बात को लेकर फ्रांस में शुरू ही जांच के बाद से कांग्रेस पार्टी एकबार फिर हरकत में आ गई है। वह एक के बाद एक सवाल दाग कर केंद्र की मोदी सरकार को घेरने में जुट गई है। बता दें कि राफेल डील में कथित भ्रष्टाचार की बात सामने आने के बाद फ्रांस सरकार ने इसकी जांच के लिए जज की नियुक्ति की है। फ्रांस सरकार के इस फैसले के बाद से कांग्रेस को एकबार फिर संजीवनी मिल गई है। आगामी समय में कुछ राज्यों में विधानसभा के चुनाव होने वाले हैं। ऐसे में कांग्रेस एकबार फिर राफेल मुद्दे को गरमाने की कोशिश में जुट गई हैं।

कांग्रेस पार्टी शुरू से ही राफेल डील के खिलाफ रही है। वह नहीं चाहती थी कि भारतीय वायु सेना के लिए राफेल जेट खरीदने की डील फ्रांसीसी निर्माता कंपनी डसॉल्ट एविएशन के साथ हो। इस डील को लेकर कांग्रेस शुरू से ही मोदी सरकार की आलोचना करती आ रही है। इसी कड़ी में रविार को कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता पवन खेड़ा ने प्रेस कांफ्रेंस करके मोदी सरकार से एक के बाद एक कई सवाल दागे हैं। उन्होंने कहा कि आजादी के बाद से केंद्र में चाहे जिसकी भी सरकार रही, सबके लिए राष्ट्रीय सुरक्षा सर्वोपरि रहा। सभी ने राष्ट्रीय सुरक्षा के मुद्दे को अहम माना।

इसे भी पढ़े: दाऊद की इमारत पर चला योगी का बुल्डोजर

मोदी सरकार ने भी राष्ट्रीय सुरक्षा की बात पर कहा था कि इससे कोई समझौता नहीं किया जाना चाहिए। लेकिन जब बात उनके उद्योगपति मित्र की जेब भरने की आती है तो राष्ट्रीय सुरक्षा की बात उनके लिए केवल नारा बनकर रह जाती है। उन्होंने कहा कि दाढ़ी में एक नहीं, बल्कि कई तिनके हैं। उन्होंने कहा कि राफेल डील को लेकर फ्रांस में जांच शुरू हुए 24 घंटे से ज्यादा का वक्त बीत चुका है। ऐसे में सभी ​की निगाहे दिल्ली की तरफ लगी हुई हैं। बताते चलें कि कांग्रेस के तरफ से लोकसभा चुनाव के दौरान राफेल का मुद्दा उछाला गया था। लेकिन जनता इस मुद्दे को स्वीकारने को तैयार नहीं दिखी। लिहाजा जनता ने कांग्रेस को ही अस्वीकार कर दिया था।

इसे भी पढ़े: हमें बदनाम करने के लिए लगाये गये आरोप

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें