मददगारों ने भी गैंगरेप पीड़िता को बनाया अपनी हवस का शिकार, आठ गिरफ्तार

0
107
Rape in Rashtrapati Bhavan

उमरिया। मजबूरी में किसी को किसी भी व्यक्ति पर भरोसा करना पड़ जाता है। कुछ लोग भरोसा कायम रखने के लिए कुछ भी कर जाते हैं तो वहीं कुछ ऐसे भी हैं जिनपर भरोसा करना जिंदगी की बहुत बड़ी गलती हो जाती है। ऐसा ही मामला मध्य प्रदेश के उमरिया जनपद से सामने आया है। यहां एक किशोरी के साथ रूह कंपा देने वाली वारदात सामने आई है। मनचलों ने पहले किशोरी को अपनी हवस का शिकार बनाया फिर अपने जानने वालों को सौंप दिया। इतना ही नहीं इन हैवानों के चंगुल से भागी युवती ने जिसजिस से मदद मांगी उसउसने मदद के नाम पर उससे दुष्कर्म किया। फिलहाल पुलिस ने इस मामले में लोगों को गिरफ्तार किया है।

पुलिस के मुताबिक नगर की किशोरी 11 जनवरी को घर से सब्जी मंडी को निकली थी। यहीं उसकी दो युवकों से मुलाकात हुईइन युवकों ने किशोरी को गुमराह करके भरौला और छटन के जंगल की तरफ ले गए। यहां इन दोनों ने उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया और फिर एक ढाबे में ले जाकर बंधक बनाकर रखा। यहां युवती को इन लोगों ने अपने साथियों को सौंप दिया जिसके बाद कई लोगों ने उसके साथ दुष्कर्म किया।

पुलिस ने बताया कि लड़की के अनुसार उसने आरोपियों से काफी मिन्नतें की तो इन ने उसे कटनी जाने के लिए एक ट्रक में बैठा दिया। रास्ते में ट्रक चालक ने भी उसके साथ दुष्कर्म किया और फिर विलायत कला-बड़वारा के टोल वैरियर उसे छोड़कर भाग निकला। किशोरी ने यहां से उमरिया जाने के लिए फिर ट्रक का सहारा लिया तो इस ट्रक के चालक ने भी उसकी बेवसी का फायदा उठाया और उसने भी उसके साथ दुष्कर्म किया। ट्रक चालक ने लड़की को उमरिया छोड़कर भाग निकला। इस तरह किशोरी को कुल मिलाकर लोगों ने अपनी हवस का शिकार बनाया। पुलिस का कहना है कि उसके साथ आकाश नामक युवक ने जनवरी को भी दुष्कर्म किया था। इस दौरान आकाश के कई साथी भी थे जिन्होंने उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया था।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें