कांग्रेस विधायक ने महिला एसडीएम को सरेआम दी धमकी, कहा— यदि आपकी…

0
102

रतलाम। मौजूदा समय में नेताओं से मर्यादित भाषा की उम्मीद करना बेमानी साबित हो रहा है। कुछ बड़ी पार्टियों के नेता तो ऐसे हैं, जिनकी बदजुबानी ही उनकी पहचान बन गई है। मध्य प्रदेश कांग्रेस में ऐसे नेताओं की तो भरमार हो गई है। राज्य के रतलाम में कांग्रेस विधायकों की दबंगाई किए जाने के मामले सामने आ रहे हैं। हाल ही में आलोट से कांग्रेस विधायक मनोज चावला का पटवारी को देख लेने की धमकी देने वाला ऑडियो का मामला शांत भी नहीं हुआ था कि अब यहां के सैलाना से कांग्रेस विधायक हर्ष गहलोत का विवादित वीडियो काफी तेजी से वायरल हो रहा है। इस वीडियो में कांग्रेस विधायक हर्ष गहलोत महिला एसडीएम के ज्ञापन नहीं लेने आने पर इतना खफा हो गए कि उन्होंने सरेआम धमकी देते हुए कहा कि आप महिला हैं, यदि आपकी जगह पर कोई पुरुष होता तो कॉलर पकड़ कर ज्ञापन देता।

गौरतलब है कि सैलाना से कांग्रेस विधायक हर्ष गहलोत ने कल किसान आंदोलन के समर्थन में ट्रैक्टर रैली निकाली थी। इस रैली में सैकड़ों ट्रैक्टर के साथ बड़ी संख्या में किसान भी शामिल हुए थे। ट्रैक्टर रैली के बाद कांग्रेस विधायक हर्ष गहलोत एसडीएम कार्यालय में ज्ञापन देने पहुंचे थे। लेकिन इस दौरान एसडीएम की जगह महिला तहसीलदार उनका ज्ञापन लेने आई। इस बात से विधायक हर्ष गहलोत इतना नाराज हो गए कि वह धरने पर बैठ गए। इसके बाद जब खुद एसडीएम कामिनी ठाकुर उनसे ज्ञापन लेने आई तो कांग्रेस विधायक ने अपना आपा खो दिया और कहा कि मैं यहां का जीता हुआ विधायक हूं। आप की जगह अगर कोई पुरुष होता तो उसका कॉलर पकड़ ज्ञापन देता।

बताते चलें कि इससे पहले आलोट से कांग्रेस विधायक मनोज चावला का एक ऑडियो वायरल हुआ था। इस ऑडियो में कांग्रेस विधायक पटवारी को धमकाते हुए देख लेने की धमकी दे रहे थे। ऐसे में अब सवाल उठने लगा है कि आखिर यह कैसी खीज है, जो बार-बार कांग्रेस विधायकों में दिख रही है। इसमें कभी कोई पटवारी को देख लेने की धमकी दे रहा है, तो कोई एसडीएम को कॉलर पकड़ने की।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें