दूसरे टेस्ट में रोहित-रहाणे का जलवा, भारत मजबूत

0
230

चेन्नई। भारतीय क्रिकेट टीम ने एमए चिदम्बरम स्टेडियम में इंग्लैंड के खिलाफ पहले मैच के पहले दिन का खेल खत्म होने तक 88 ओवरों मे 6 विकेट के नुकसान पर 300 रन बना लिए हैं। इस तरह उसकी स्थिति मजबूत हो गई है। शुरुआती झटकों के बाद सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा (161) के रेकॉर्ड शतकीय पारी और उनकी उपकप्तान अजिंक्य रहाणे (67) के बीच हुए हुई 162 रनों की साझेदारी ने भारत को बड़े स्कोर तक पहुंचने में मदद की। स्टंप्स के समय डेब्यू स्टार अक्षर पटेल 5 अैर ऋषभ पंत 33 रन बनाकर नाबाद लौटे।
भारतीय टीम के धुरंधर बल्लेबाज रोहित शर्मा लय में दिख रहे थे और दोहरा शतक पूरा करने के करीब भी थे, लेकिन जैक लीच की ओर से किए गए 73वें ओवर की आखिरी गेंद को मोईन अली के हाथों में खेल बैठे। उन्होंने 231 गेंदों में 18 चौके और 2 छक्के की मदद से 161 रन की पारी खेली। इसके कुछ ही देर बाद अजिंक्य रहाणे भी चलते बने। 76वें ओवर की दूसरी गेंद पर अजिंक्य रहाणे मोईन अली को पूरी तरह चूक गए और क्लीन बोल्ड हो गए। उन्होंने 149 गेंदों में 9 चौके की मदद से 67 रन बनाए।

आखिरी सेशन में इंग्लैंड ने की वापसी

दूसरे सेशन तक भारत की टीम काफी मजबूत स्थिति में नजर आ रही थी और महज तीन विकेट खोकर 200 रनों का आंकड़ा पार चुकी थी। लेकिन, आखिरी सेशन में इंग्लैंड की टीम ने मैच में शानदार करते हुए टीम इंडिया को लगातार तीन बड़े झटके दिए। जैक लीच ने पहले रोहित शर्मा की शानदार पारी का अंत किया, जबकि मोईन अली ने कोहली के बाद रहाणे को भी बोल्ड करके इंग्लैंड की टीम को बड़ी राहत दिलाई। इसके बाद, कप्तान जो रूट ने रविचंद्रन अश्विन को पवेलियन भेजकर भारत को दिन का खेल खत्म होने तक बैकफुट पर ढकेल दिया।

शुरुआती विकेट गिरने के बाद मुंबइकर रोहित शर्मा और अजिंक्य रहाणे ने मोर्चा संभाला और चौथे विकेट के लिए शानदार साझेदारी करते हुए टीम को उबार लिया। हालांकि, रोहित जहां डबल सेंचुरी चूके तो रहाणे शतक बनाने में असफल रहे। दिन का पहला और दूसरा सत्र पूरी तरह रोहित और रहाणे के नाम रहा और इन दोनों बल्लेबाजों ने इंग्लैंड के गेंदबाजों को काफी परेशान किया।

खराब शुरुआत के बाद रोहित छाए

इससे पहले भारत की शुरुआत खराब रही थी। भारत ने पहले सत्र में शुभमन गिल (0), चेतेश्वर पुजारा (21) और कप्तान विराट कोहली (0) के विकेट गंवाए। लेकिन दूसरे सत्र में रोहित ने अपनी शानदार पारी की बदौलत टीम इंडिया को शुरुआती झटकों से उबारते हुए संभाला। रोहित ने रहाणे के साथ मिलकर भारतीय पारी को आगे बढ़ाया और दोनों बल्लेबाजों ने जिम्मेदारी से खेलते हुए संकट से उबारा। रोहित ने इस दौरान अपना शतक पूरा किया। रोहित के करियर का यह सातवां शतक है और उन्होंने अपने सभी सात शतक भारत में ही जड़े हैं।

अजहरुद्दीन का रेकॉर्ड तोड़ा

रोहित के नाम देश में सात शतक जड़ने का रेकॉर्ड दर्ज हो गया है। इससे पहले यह रेकॉर्ड मोहम्मद अजहरुद्दीन के नाम था, जिन्होंने छह शतक देश में लगाने के बाद विदेश में अपना पहला शतक लगाया था। रोहित ने साल 2019 में बांग्लादेश के खिलाफ शतक लगाया था। अब उन्होंने नौ पारियों, 15 महीने के बाद पहला शतक लगाया है। चेन्नै में यह उनका पहला शतक है।

टीम इंडिया में हुआ तीन बदलाव

भारतीय टीम में तीन बदलाव किये गये हैं और स्पिन गेंदबाजी हरफनमौला अक्षर पटेल ने टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण किया. सीनियर तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह को आराम देकर मोहम्मद सिराज को टीम में जगह मिली है. वहीं, वाशिंगटन सुंदर की जगह कलाई के स्पिनर कुलदीप यादव खेलेंगे जो दो साल में उनका पहला टेस्ट होगा. इंग्लैंड टीम में डोम बेस की जगह मोईन अली, जेम्स एंडरसन की जगह स्टुअर्ट ब्रॉड और चोटिल जोफ्रा आर्चर की जगह ओली स्टोन को शामिल किया गया है. विकेटकीपर जोस बटलर की जगह बेन फोक्स ने ली.

 

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here