होली में बन रहा है दुर्लभ योग, कई राशियों को होगा लाभ, जानें अनोखें उपाय

0
216

लखनऊ। हिंदू धर्म में होली के त्योहार का विशेष महत्व होता है। फाल्गुन मास की पूर्णिमा को होलिका दहन किया जाता है और इसके अगले दिन रंग वाली होली खेली जाती है। इस साल होलिका दहन 28 मार्च को किया जाएगा, जबकि रंग वाली होली 29 मार्च को खेली जाएगी। होलिका दहन के दिन लोग होली पूजा करने के साथ ही एक-दूसरे को गुलाल-अबीर लगाकर होली की बधाई देते हैं। इस साल होली पर ध्रुव योग का निर्माण हो रहा है। ज्योतिष शास्त्र में ध्रुव योग को शुभ माना जाता है। पूर्णिमा तिथि 28 मार्च को सुबह 03 बजकर 30 मिनट से शुरू होगी जो कि 29 मार्च की रात 12 बजकर 15 मिनट तक रहेगी। होली के दिन मकर व गुरु एक ही राशि मकर में विराजमान रहेंगे। शुक्र व सूर्य मीन राशि पर संचार करेंगे। चंद्रमा कन्या राशि में गोचर करेगा। वहीं होली में इस बार सर्वार्थ सिद्धि योग, ध्रुव योग, अमृत सिद्धि योग का निर्माण हो रहा है, जिन्हें मुहूर्त शास्त्र में बहुत ही शुभ माना जाता है। वहीं ग्रह नक्षत्र की बात करें तो, होली के दिन चंद्रमा कन्या राशि में स्थित होगा। इसके अलावा दो सबसे बड़े और अहम ग्रह शनि और गुरु, होली के दिन मकर राशि में विराजमान होंगे। वहीं शुक्र और सूर्य ये दोनों ही मीन राशि में रहेंगे। मंगल और राहु वृषभ राशि में, बुध कुंभ राशि और केतु वृश्चिक राशि में विराजमान होगा।

होलिका दहन मुहूर्त 2021

28 मार्च को दिन में 1 बजकर 54 मिनट पर भद्रा समाप्त हो जाएगा। ऐसे में प्रदोष काल में इस बार होलिका दहन किया जाना शुभ फलदायी रहेगा। होलिका दहन का मुहूर्त शाम 06:20 से 08:41 तक रहेगा। इस वर्ष होलिका दहन के समय वृद्धि योग उपस्थित रहेगा। अपने नाम के अनुसार यह योग सभी शुभ कर्मों में वृद्धि और उन्नति प्रदान करने वाला रहेगा। वृद्धि योग के साथ होलिका दहन के दिन कई और भी शुभ योग उपस्थित होंगे।

इन राशियों को होगा लाभ

मेष- होली पर बनने वाले ग्रह-नक्षत्रों के शुभ संयोग से आपके कमाई के साधन बढ़ेंगे। नौकरी की तलाश कर रहे लोगों को शुभ समाचार की प्राप्ति हो सकती है। व्यापारियों को भी लाभ मिलेगा। पारिवारिक जीवन सुखी रहेगा। गुस्से पर काबू रखें। संतान की ओर से शुभ समाचार मिल सकता है। छात्रों के लिए उत्तम समय है।

कर्क- ग्रह-नक्षत्रों के दुर्लभ संयोग से आप धन खर्च पर कंट्रोल कर पाएंगे। नौकरी में काम का प्रेशर रहेगा, लेकिन आपको आपकी मेहनत का फल अवश्य मिलेगा। अचानक धन लाभ के योग बन सकते हैं। आमदनी के साधन बढ़ सकते हैं। परिवार में खुशी का माहौल रहेगा।

सिंह- होली के आसपास आपको धन लाभ हो सकता है। नए बिजनेस या नौकरी का लाभ मिल सकता है। दोस्तों से सहयोग प्राप्त होगा। आत्मविश्वास में बढ़ोतरी होगी। मान-सम्मान भी बढ़ेगा। खर्चों पर कंट्रोल रखने की जररूत है। होलिका दहन से पहले कोई शुभ समाचार मिल सकता है।

तुला- 28 मार्च तक आपके लिए समय शुभ रहने वाला है। इस दौरान शुभ समाचार मिल सकता है। कार्यस्थल पर प्रमोशन होने की संभावना है। साथ ही आमदनी भी बढ़ सकती है। परिवार के साथ अच्छा समय बीतेगा।

कुंभ- नौकरी या बिजनेस में पहले से स्थिति में सुधार होगा। अचानक धन के योग बन सकते हैं। हालांकि इस दौरान आपको मानसिक तनाव का सामना करना पड़ सकता है। वाद-विवाद से बचें। संतान सुख की प्राप्ति हो सकती है। कोई शुभ समाचार भी मिल सकता है।

खुशियों के लिए करें यह उपाय

  • घर, दुकान और कार्यस्थल की नजर उतारकर उसे होलिका में दहन करने से लाभ होता है। भय से निजात पाने के लिए नरसिंह स्तोत्र का पाठ करें।
  • सफलता प्राप्ति के लिए होलिका दहन स्थल पर नारियल, पान तथा सुपारी भेंट करें। होलिका दहन के दूसरे दिन राख लेकर उसे लाल रुमाल में बांधकर पैसों के स्थान पर रखने से व्यर्थ के खर्च रुक जाते हैं।
  • होली पर हनुमानजी को चोला और गुलाब फूल की माला चढ़ाएं। पूजन के वक्त श्रीराम और हनुमान जी का स्मरण करें।
  • होली के दिन घर के मुख्य दरवाजे पर भगवान श्रीगणेश की मूर्ति लगाएं और घर की दक्षिण-पश्चिम दिशा में परिवार की फोटो या सूरजमुखी की तस्वीर लगाएं।
  • होली पर घर में रंगाई करा रहे हैं तो दीवारों पर काले रंग का इस्तेमाल करने से बचें। घर की पूर्व दिशा में हरे पौधे रखें।
  • होली के अवसर पर अपने घर में श्रीयंत्र लाएं और इसे अपने घर या दुकान की तिजोरी में स्थापित करें।
    होली के दिन वास्तु यंत्र को पीले रंग के वस्त्र पर स्थापित करें। होली वाले दिन सबसे पहले अपने ईष्ट देव को रंग लगाएं।
  • पितरों के निमित्त गुलाल से तैयार रंग गणपति को अर्पित करें। घर के बुजुर्गों के माथे पर गुलाल का तिलक लगाकर होली पर्व की शुरुआत करें। होली वाले दिन घर में मोती शंख लाना शुभ माना जाता है।
  • मान्यता है कि होलिकादहन करने या फिर उसके दर्शन मात्र से भी व्यक्ति को शनि-राहु-केतु के साथ नजर दोष से मुक्ति मिलती है।
  • माना जाता है कि होली की भस्म का टीका लगाने से नजर दोष तथा प्रेतबाधा से मुक्ति मिलती है।
  • धार्मिक मान्यता के अनुसार, किसी मनोकामना को पूरा करना चाहते हैं तो जलती होली में 3 गोमती चक्र हाथ में लेकर अपनी इच्छा को 21 बार मन में बोलकर तीनों गोमती चक्र को अग्नि में डालकर अग्नि को प्रणाम करके वापस आ जाएं।
  • धार्मिक मान्यताओं के अनुसार यदि कोई व्यक्ति घर में भस्म चांदी की डिब्बी में रखता है तो उसकी कई बाधाएं अपने आप ही दूर हो जाती हैं।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here