गाजीपुर बॉर्डर पर भाजपा समर्थक और किसान आपस में भिड़े, कई जख्मी

0
851
farmer demonstration

नई दिल्ली: केंद्रीय कृषि कानूनों के विरोध में बीते 7 महीनों से गाजीपुर सीमा पर प्रदर्शन कर रहे किसान संगठनों के किसानों से बीजेपी कार्यकर्ताओं के साथ मारपीट की खबर आ रही है। बताया जा रहा है कि यहां किसानों और भाजपा के समर्थकों के बीच बवाल हो गया है, जिसमें कई लोग घायल हुए हैं। सूचना है कि गाजीपुर बॉर्डर पर भाजपा समर्थक किसी नेता के स्वागत के इक्कट्ठा हुए थे। लेकिन इसी बीच नारेबाजी को लेकर किसानों ने हंगामा शुरू कर दिया। भारतीय किसान यूनियन की तरफ से भाजपा पर लाठी डंडों से हमला करने का आरोप लगाया जा रहा है।

भारतीय किसान यूनियन ने इस बारे में ट्वीट कर लिखा है कि भाजपा के कार्यकर्ताओं ने बुधवार को गाजीपुर बॉर्डर पर फ्लाई-वे के बीच मंच के पास भारी संख्या में इकट्ठे होकर किसी नेता के स्वागत के बहाने ढोल बजाकर आंदोलन विरोधी नारे लगाए। भाकियू कार्यकर्ताओं ने जब इसके लिए मना किया तो उनपर लाठी डंडों से हमला किया किया। इसमे कई किसान घायल हुए हैं। वहीं किसान नेताओं का आरोप है कि भाजपा अब उनके आंदोलन को हिंसा से तोड़ना चाहती है। इसका उदाहरण गाजीपुर बॉर्डर पर भाजपा कार्यकर्ताओं की तरफ से की गई हिंसा है।

इसे भी पढ़ें: राजनीतिक दलों को इस दर्द का एहसास तब क्यों नहीं हुआ!

भाकियू ने कहा, सभी किसानों से अनुरोध है इनके बहकावे में न आएं और अपने आंदोलन को बचाए रखें। ज्ञात हो है कि किसान संगठन गत सात महीने से केंद्रीय कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं। इस दौरान सरकार के साथ उनके संगठनों की कई दौर की वार्ता हो चुकी लेकिन नतीजा कुछ नहीं निकला। सरकार की तरफ से कानून वापस लेने की बात को छोड़कर हर सुझाव पर विचार करने का आश्वासन दिया गया, जबकि किसान कानून को पूरी तरह से वापस लेने की मांग पर अड़े हुए है। हालांकि प्रदर्शन के बीच से कई तरह की खबरे निकल कर आती रहती हैं। हाला ही में यहां एक किसान को जिंदा जला भी दिया गया था।

इसे भी पढ़ें: फिर दिखे संदिग्ध ड्रोन, अलर्ट पर सुरक्षा बल

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें