डीसीएम के स्वामी ने पुलिस पर लगाया अवैध वसूली का आरोप

0
52
charge of recovery

प्रतापगढ़: खबर यूपी के प्रतापगढ़ से है, जहां फतनपुर थाना कि पुलिस पर गंभीर आरोप लगा है। फतनपुर थाना क्षेत्र के लखनऊ बनारस राजमार्ग पर फतनपुर धरी मोड़ के पास बीते दिनों थाने की गाड़ी से हुई टक्कर के मामले में अमेठी जिले के शिवरतनगंज थाना क्षेत्र के बिझौरा इन्हौना निवासी राम रतन के पुत्र परसुराम ने पुलिस अधीक्षक प्रतापगढ़ व यूपी सीएम पोटल एवं मानवाधिकार आयोग को शिकायती पत्र भेज कर फतनपुर पुलिस पर वसूली करने का आरोप लगाया है।

एसपी को शिकायत पत्र देकर की कार्रवाई की मांग

एसपी को दिए गये शिकायती पत्र में परसुराम ने आरोप लगाया है कि उसका ड्राइवर संजीत बीते 19 जनवरी को डीसीएम वाहन संख्या यूपी 36टी-3937 पर रार्बटगंज से टमाटर लादकर आ रहा था कि 19 जनवरी को सुबह लगभग 3 बजे थाना फतनपुर के धरी मोड़ लखनऊ बनारस राजमार्ग पर पहुंचा था कि थाना फतनपुर की गाड़ी सं.यूपी 72जी -0374 के डाइवर की लापरवाही से दुर्घटना हो गई। जिसमें कोई चोटहिल नहीं हुआ, किन्तु फतनपुर थाने की पुलिस द्वारा डीसीएम को थाना परिसर में निरुद्ध करा लिया गया। उन्होंने आरोपित किया कि फतनपुर थाने के एसआई अमित सिंह द्वारा मुझ से 20 हजार रुपए लिया गया और डाइबर की जेब में मौजूद 5500 रुपए व गाड़ी के समस्त कागजात भी पुलिस ले लिया है।

इसे भी पढ़ें: चोरी की बाइकों के साथ गिरफ्तार

परसुराम ने दिए गए शिकायती पत्र में आरोप लगाया है कि थाना फतनपुर पुलिस द्वारा यह कहा जा रहा है कि थाने की गाड़ी में जो नुकसान हुआ है उसको बनवाओ नहीं तो 5 लाख रुपए दो। परसुराम ने आरोप लगाया है कि वाहन और चालक तथा खलासी को अवैध तरीके से बिना किसी लिखा पढी के थाने में निरुद्ध किया गया है। इतना ही नहीं उसने आरोपित किया कि गाड़ी व ड्राइवर का आज तक चालान नहीं किया गया और ड्राइवर संजीत एवं खलासी को पुलिस द्वारा बुरी तरह मारा पीटा गया है। जिससे ड्राइवर चल फिर नहीं पा रहा है। परसुराम ने एसपी को शिकायती पत्र देकर उचित अवश्यक कार्यवाही की मांग की है।

इसे भी पढ़ें: छात्रा को बंधक बनाकर छह लोगों ने किया दुष्कर्म

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें