विकराल रूप ले रहा चक्रवात तौकते, जानें क्या है बचाव की तैयारी

0
182
Cyclone Tawkate

नई दिल्ली। चक्रवात तौकते (Cyclone Tauktae) अब अपना विकराल रूप ले रहा है। अरब सागर (Arabian Sea) से उठे चक्रवाती तूफान तौकते को लेकर कई अलर्ट पर हैं। भारतीय मौसम विभाग (IMD) के मुताबिक तूफान तौकते (Cyclone Tauktae) जैसे—जैसे आगे बढ़ेगा वह और विकराल हो सकता है। चक्रवात तौकते की तैयारियों को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने समीक्षा बैठक की है। पीएम मोदी ने अधिकारियों से लोगों को सुरक्षित निकालने के लिए हर संभव उपाय अपनाने को कहा है।

मौसम विभाग के अनुमान के मुताबिक चक्रवात तौकते 18 मई की सुबह गुजरात पहुंचेगा जो वेरावल और पोरबंदर के बीच मांगरोल के पास टकराएगा। वहीं तूफान की वजह से कर्नाटक में आज सुबह एक व्यक्ति की मौत और 6 लोगों के लापता होने की खबर है। इस बीच सुरक्षा एजेंसियों ने दो लोगों को बचा लिया है। इसके अलावा मैंगलुरू के पास चक्रवात को लेकर बने हालात पर नजर रखी जा रही है।

इसे भी पढ़ें: लूटेरों की तरह पहुंची यूपी पुलिस, फायरिंग में दूल्हे की दादी को लगी गोली

तटीय राज्यों में बढ़ी मुस्तैदी

चक्रवात के मद्देनजर मौसम विभाग के लगाए गए पूर्वानुमान में इस बीच कई राज्यों में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। जबकि महाराष्ट्र, केरल और गुजरात के तटों पर तीन दिन तक तूफान का असर रहने की आशंका है। वहीं मुंबई में आज यानी रविवार दोपहर से तेज बारिश हो सकती है। केरल में भी राहत और बचाव के साथ तूफान का कहर कम करने के अतिरिक्त इंतजाम किए गए हैं।

इसके साथ ही मछुआरों को समंदर से दूर रहने की चेतावनी दी गई है। IMD के अनुसार तूफान तौकते और विकराल हो कर भारी तबाही मचा सकता है। इस दौरान 150 से 160 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाओं के चलने का अनुमान है।

एनडीआरएफ की टीमें मुस्तैद

चक्रवात तौकते के खतरों के मद्देनजर कई उड़ानों को रद्द कर दिया गया है। जबकि नौसेना (Navy), एयरफोर्स (IAF), एनडीआरएफ (NDRF), एसडीआरएफ(SDRF) सहित की कई टीमें लगातार लोगों को सुरक्षित निकालने की दिशा में काम कर रही हैं। जानकारी के मुताबिक NDRF ने चक्रवात के प्रभाव को देखते हुए राहत और बचाव के उपाय करने के लिए टीमों की संख्या 53 से बढ़ाकर अब 100 कर दी है।

भारतीय मौसम विभाग के अनुसार अगले तीन दिन में चक्रवात तौकते कर्नाटक, केरल, गोवा, गुजरात और महाराष्ट्र के लिए बड़ी मुसीबत खड़ा कर सकता है। इसके चलते NDRF की टीमों को अलर्ट पर रखा गया है। वहीं केरल में कुछ स्थानों पर तटों को सुरक्षित करने के इंतजाम किए गए हैं। इसी के साथ ही गुजरात के कच्छ और सौराष्ट्र के समुद्री इलाकों में चक्रवात तौकते (Cyclone Tauktae) को लेकर कोस्ट गार्ड अलर्ट पर है।

इसे भी पढ़ें: तेजस्वी यादव हुए लापता, ग्रामीणों ने लगाए पोस्टर, इनाम की घोषणा

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here