कोरोना संक्रमण के खिलाफ जारी जंग में अहम भूमिका निभा रहे सीएम शुक्ला

0
450
cm shukla

प्रतापगढ़। ऐ मेरी जमीं अफसोस नहीं। जो तेरे लिए सौ दर्द सहे। महफूज रहे तेरी आन सदा। चाहे जान मेरी ये रहे न रहे। फिल्म केसरिया का यह गीत इन दिनों कोरोना योद्धाओं पर सटीक बैठता है, जो अपनी जान की परवाह किए बगैर इस कोरोना की जंग में लोगों की जान बचाने में अहम भूमिका निभा रहे है। कोरोना की दूसरी लहर ने राजधानी समेत देश के बड़े हिस्से को अपनी चपेट में ले लिया है। इस बीच लोगों को ऑक्सीजन, अस्पताल में बेड और श्मशान में जगह के लिए संघर्ष करते देखा जा रहा है।

ऐसे माहौल में स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों द्वारा अहम भूमिका निभाते हुए अपनी जिम्मेदारी का निर्वाहन पूर्ण निष्ठा एवं ईमानदारी के साथ अपनी जान की परवाह किए बगैर दूसरों की जान बचाने में लगे हुए हैं। जबकि कर्तव्यनिष्ठा के दौरान कई संक्रमित हुए तो कई की जान भी चली गई, पर इन जांबाज कोरोना योद्धाओं के पैर नहीं लड़खड़ाए बल्कि निडर होकर डटे रहे हैं। इसी में एक ऐसे भी कोरोना योद्धा हैं जो राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के तहत जिले के मंगरौरा ब्लॉक स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र कोहंडौर में नेत्र परीक्षण अधिकारी के पद पर कार्यरत सीएम शुक्ला जो बिना किसी अवकाश के अपनी जान की परवाह किए बगैर लोगों की जान बचाने में जुटे हैं। वह अपने कर्तव्यों का निर्वहन पूर्ण निष्ठा एवं जिम्मेदारी के साथ करते हुए कोरोना के इस जंग में अहम भूमिका निभा रहे हैं।

इसे भी पढ़ें: वेबिनार में उठी कोविड की उत्पति की विस्तृत जांच की मांग

ब्लॉक में होम आइसोलेशन में स्वास्थ्य लाभ ले रहे मरीजों का आरआरटी के माध्यम से देखरख करते हुए उनका पूरा ध्यान देते हुए गंभीर होने पर एंबुलेंस मंगवा कर कोविड अस्पताल पहुंचा रहे हैं। इतना ही नही सभी मरीजों को दवा पहुंचाने की जिम्मेदारी का निर्वाहन करते हुए 24 घंटे के अंदर पॉज़िटिव मरीजों के कांटैक्ट सैंपलिंग भी करा रहे है। पॉज़िटिव रहे मरीजों को जल्द स्वास्थ्य लाभ हेतु फोन कर कोरोना की सही जानकारी से रूबरू कराने के साथ ही कंट्रोल रूम में अपनी जिम्मेदारी निभा रहे है। इ

सके साथ ही सीएम शुक्ल ब्लॉक के सभी ग्रामों के प्रधानों व विशिष्ट जनों एवं आंगनबाड़ी कार्यकत्री, आशा कार्यकत्री से सम्पर्क में अनवरत बने रहते हुए संबंधित ग्राम सभा में कोई पॉज़िटिव केस मिलने पर होम आइसोलेशन या फैकल्टी आइसोलेशन मरीज जिसके पात्र होते है, उनको आइसोलेट कराते है तथा धैर्य के साथ मरीजों के शंकाओं का समाधान करने में अपनी जिम्मेदारी निभा रहे है। कोरोना के इस जंग में मंगरौरा ब्लॉक के लोग करोना योद्धा सीएम शुक्ल के कार्यों एवं जिम्मेदारियों से संतुष्ट होकर भूरि-भूरि प्रशंसा करते नजर आ रहे हैं।

इसे भी पढ़ें: शोषण के खिलाफ एनएचएम कर्मियों ने सीएम योगी सहित अन्य अधिकारियों को भेजा पत्र

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें