BCCI ने दर्ज की शिकायत, सिडनी टेस्ट के दौरान बुमराह और सिराज पर की गई नस्लीय टिप्पणी

0
77

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीसरे टेस्ट के तीसरे दिन के दौरान टीम के खिलाड़ी जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद सिराज के साथ नशे में धुत दर्शक द्वारा कथित रूप से नस्लीय दुर्व्यवहार के बाद आईसीसी मैच रैफरी के समक्ष औपचारिक शिकायत दर्ज की है। बीसीसीआई सूत्रों के अनुसार सिराज को सिडनी क्रिकेट मैदान के एक स्टैंड में उपस्थित नशे में धुत एक दर्शक ने ‘मंकी’ (बंदर) कहा, जिससे 2007-08 में भारतीय टीम के आस्ट्रेलिया दौरे के ‘मंकीगेट’ प्रकरण की याद ताजा हो गयी।

बोर्ड के एक सूत्र ने पीटीआई से कहा, ‘‘बीसीसीआई ने अपने दो खिलाड़ियों जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद सिराज से नशे में धुत एक दर्शक द्वारा दुर्व्यवहार के बाद आईसीसी मैच रैफरी डेविड बून के समक्ष औपचारिक शिकायत दर्ज की है। दिलचस्प बात है कि मंकीगेट प्रकरण भी सिडनी टेस्ट के दौरान ही हुआ था। जब एंड्रयू साइमंड्स ने दावा किया था कि हरभजन सिंह ने उन्हें कई बार बंदर कहा था। लेकिन भारतीय ऑफ स्पिनर को इस मामले की सुनवाई के बाद क्लीन चिट मिल गई थी।

पता चला है कि दिन का खेल समाप्त होने के बाद भारतीय टीम के सीनियर खिलाड़ियों, अंपायरों और सुरक्षा अधिकारियों के बीच काफी लंबी चर्चा हुई थी। इसमें कप्तान अजिंक्य रहाणे भी शामिल थे। यह घटना तब हुई जब दोनों भारतीय खिलाड़ी ऑस्ट्रेलिया की दूसरी पारी के दौरान फील्डिंग कर रहे थे।

इसे भी पढ़ें: देश में 16 जनवरी से शुरू होगा कोरोना वैक्सीनेशन, पीएम मोदी की हाई लेवल बैठक के बाद हुआ एलान

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here