डा. रामबाबू हरित बने एससी-एसटी आयोग के अध्यक्ष, योगी सरकार ने जारी की सदस्यों की लिस्ट

0
293
YogiAdityanath

लखनऊ: योगी सरकार ने उत्तर प्रदेश अनुसूचित जाति-जनजाति आयोग का पुनर्गठन कर दिया है। इस संदर्भ में प्रमुख सचिव के. रविंद्र नायक ने बुधवार को आदेश जारी कर दिया है। जारी आदेश के मुताबिक आगरा के डॉ. रामबाबू हरित को आयोग का अध्यक्ष बनाया गया है। इसी क्रम में शाहजहांपुर के मिथिलेश कुमार ओर सोनभद्र के रामनरेश पासवान को उपाध्यक्ष बनाया गया है। साथ ही संभल की साध्वी गीता प्रधान, अलीगढ़ के ओमप्रकाश नायक, लखनऊ के रमेश तूफानी, राम सिंह वाल्मीकि, वाराणसी के कमलेश पासी, बलिया के शेषनाथ आचार्य, आजमगढ़ के तीजा राम, जौनपुर की अनीता सिद्धार्थ को सदस्य मनोनीत किया गया है। इनका कार्यकाल एक वर्ष के लिए है।

इसी क्रम में फर्रुखाबाद के राम आसरे दिवाकर, मथुरा के श्याम अहेरिया, वाराणसी के मनोज सोनकर, सोनभद्र के मनोज सोनकर, श्रवण गौंड, अमरेश चंद्र चोरो, कानपुर के किशन लाल सुदर्शन को भी आयोग का सदस्य मनोनीत किया गया है। बता दें कि इससे पहले पूर्व आईपीएस और वर्तमान बीजेपी राज्यसभा सदस्य बृजलाल को 18 अप्रैल, 2018 को आयोग का चेयरमैन बनाया गया था। दो उपाध्यक्ष सहित कुल 17 सदस्यों का आयोग बनाया गया था।

इसे भी पढ़ें: प्रदर्शनकारियों को रोकने गई पुलिस पर पत्थराव, दरोगा सहित 15 जख्मी

17 नवम्बर, 2019 को 65 वर्ष की आयु पूरी होने के नाते बृजलाल को आयोग का चेयरमैन पद छोड़ना पड़ा। उसके बाद आयोग की उपाध्यक्ष पूर्णिमा वर्मा आयोग के अध्यक्ष का कामकाज देख रही थीं। लेकिन राज्य सरकार ने बुधवार को नई सूची जारी करते हुए चेयरमैन सहित 15 सदस्यों का आयोग गठित कर दिया है।

इसे भी पढ़ें: ट्रांसफर पर लगी रोक हटी, 15 जुलाई तक होंगे तबादले

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here