जीत के साथ भारत पहुंचा टॉप पर

0
321

अहमदाबाद। भारतीय क्रिकेट टीम ने मोटेरा के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में खेले गए तीसरे टेस्ट मैच के दूसरे दिन गुरुवार को इंग्लैंड को 10 विकेट से हरा दिया। इसके साथ ही टीम इंडिया चार मैचों की टेस्ट सीरीज में 2-1 से आगे हो गई है। जीत के साथ ही भारत आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियशिप की प्वाइंट टेबल में 490 अंकों के साथ टॉप पर पहुंच गया है। वहीं न्यूजीलैण्ड 420 अंकों के साथ दूसरे तथा आस्ट्रेलिया 332 अंकों के साथ तीसरे स्थान पर है। दोनों टीमों के लिए यह मैच काफी महत्वपूर्ण था। वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंचने के लिए दोनों टीमों को यह मैच हर हाल में जीतना था, इस जीत के साथ ही भारत के फाइनल में पहुंचने की संभावना बढ़ गई है। न्यूजीलैंड पहले से ही वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंच चुका है। हालांकि आखिरी मैच भारत को किसी भी हाल में हारना नहीं है। अगर भारत अपना आखिरी मैच हार जाता है तो ऑस्ट्रेलिया फाइनल में पहुंच जाएगा।
भारत को जीत के लिए 49 रन बनाने थे जो उसने बिना विकेट गंवाए 7.4 ओवर में बना लिए। रोहित शर्मा 25 गेंदों पर तीन चौकों और एक छक्के की मदद से नाबाद 25 तथा शुभमन गिल 21 गेंदों पर एक चौके और एक छक्के की मदद से 15 रन बनाकर नाबाद रहे। भारत ने आज सुबह अपनी पारी तीन विकेट पर 99 रन से आगे बढ़ाई लेकिन कप्तान जोए रूट के पांच और जैक लीच के चार विकटों की शानदार गेंदबाजी ने भारत की पहली पारी 145 पर समेट दी। भारत को हालांकि पहली पारी में 33 रनों की मामूली बढ़त हासिल हुई। भारत को ऑलआउट करने के बाद इंग्लैंड की दूसरी पारी पूरी तरह लड़खड़ा गई और अक्षर पटेल (5/32) तथा ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन (4/48) ने इंग्लैंड को 81 रन ऑलआउट कर दिया तथा भारत को जीत के लिए 49 रनों का लक्ष्य मिला। भारत और इंग्लैंड के बीच टेस्ट सीरीज का चौथा और आखिरी मुकाबला इसी मैदान पर चार मार्च से खेला जाएगा।

इंग्लैंड ने भारत के खिलाफ अपना न्यूनतम स्कोर बनाया

इससे पहले का रिकॉर्ड 101 रन था जो उसने 1971 में ओवल में बनाया था। पहली पारी में छह विकेट लेने वाले अक्षर ने नई गेंद संभाली और पहली गेंद पर जॉक क्राउली को बोल्ड करके उन्हें गलत लाइन पर खेलने सजा दी। वह पारी की पहली गेंद पर विकेट लेने वाले दुनिया के चौथे और अश्विन के बाद भारत के दूसरे स्पिनर बने। अक्षर डीआरएस के कारण अपनी हैट्रिक पूरी नहीं कर पाए, लेकिन तीसरी गेंद पर जॉनी बेयरस्टो को बोल्ड करने में सफल रहे, उन्होंने पहली पारी की आखिरी गेंद पर विकेट लिया था। अक्षर ने इसके बाद दूसरे सलामी बल्लेबाज डॉम सिबली को पवेलियन भेजा।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें