जम्मू में एयरफोर्स स्टेशन पर ड्रोन से हमला

0
352

जम्मू। जम्मू एयरफोर्स स्टेशन के टेक्निकल एरिया के पास धमाका होने से एयरफोर्स के दो जवानों को हल्की चोटें आई हैं। यहां 5 मिनट के अंतराल पर दो ब्लास्ट हुए। पहला ब्लास्ट परिसर की बिल्डिंग की छत पर और दूसरा नीचे हुआ। विस्फोट करने के लिए दो ड्रोन इस्तेमाल किए गए थे। हमलावरों का पता नहीं चल पाया है, लेकिन आशंका है कि विस्फोट वाले इलाके में खड़े एयरक्राफ्ट उनके निशाने पर थे।
रिपोर्ट्स के मुताबिक ये धमाके आधी रात 1.37 बजे और 1.43 बजे हुए हैं। शीर्ष सैन्य सूत्रों का कहना है कि इसे एक गंभीर घटना के तौर पर माना जा रहा है। राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) की टीम भी हवाई अड्डे पर पहुंच गयी है। जम्मू-कश्मीर के डीजीपी दिलबाग सिंह ने जम्मू में इंडियन एयरफोर्स स्टेशन में हुए धमाके को आतंकवादी हमला बताया है। उन्होंने इस बात की पुष्टि की है कि ड्रोन के जरिए आईईडी धमाका किया गया है। दिलबाग सिंह ने कहा है कि ड्रोन को ही आईईडी बम के तौर पर इस्तेमाल किया गया है। घटनास्थल से इसके टुकड़े बरामद हुए हैं।
उल्लेखनीय है कि शहर के सतवारी क्षेत्र में स्थित जम्मू हवाई अड्डा एक दोहरे उपयोग की सुविधा वाला एयरपोर्ट है जो भारतीय वायुसेना के नियंत्रण में है और इसका उपयोग यात्री उड़ानों को संचालित करने के लिए भी किया जाता है। सूत्रों का कहना है कि विस्फोट भारतीय वायुसेना द्वारा संचालित दोहरे उपयोग वाले हवाई अड्डे के एक हिस्से में हुआ। वायुसेना की ओर से जारी आधिकारिक बयान में कहा गया कि जम्मू वायु सेना स्टेशन के तकनीकी क्षेत्र में रविवार तड़के दो कम तीव्रता वाले विस्फोटों की सूचना मिली। एक धमाके में एक इमारत की छत को मामूली नुकसान हुआ है. दूसरा विस्फोट खुले क्षेत्र में हुआ है। किसी भी उपकरण को कोई नुकसान नहीं हुआ है। इस विस्फोट ने सुरक्षा एजेंसियों के बीच चिंता पैदा कर दी है, क्योंकि पहली बार किसी सैन्य ठिकाने पर हमले में ड्रोन का इस्तेमाल किया गया है।

भीड़ में हमले की साजिश नाकाम

जम्मूकश्मीर के डीजीपी ने बतायाकि आतंकवादियों ने भीड़ में धमाके की भी साजिश रची थी। जिसे नाकाम कर दिया गया है। डीजीपी ने कहा है कि जम्मू पुलिस ने 5-6 किलो का एक आईईडीबम बरामद किया है। यह लश्कर-ए-तैयबा के आतंकी से बरामद हुआ है और किसी भीड़ वाले इलाके में इससे धमाके की योजना बनाई गयी थी। इस बरामदगी से बड़े हमले की साजिश को नाकाम कर दिया गया है। हिरासत में लिए गए संदिग्धों से पूछताछ की जा रही है।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें