गुजराती मूल की यह लड़की इजरायली सेना की टीम का है हिस्सा, जिसने गाजा का बजाया बाजा

0
533
Israel-Palestine

नई दिल्ली: इजरायल की तरफ से गाजा पर हवाई हमले किए जाने के बाद दोनों तरफ से तनाव एकबार फिर चरम पर पहुंच गया है। इजरायल में नफ्ताली बेनेट के नेतृत्व में नई सरकार के गठन के बाद खबर आई की देश ने गाजा पर हवाई हमले किए हैं। इस हमले के पीछे इजरायली सेना का कहना था कि गाजा की तरफ से विस्फोटक वाले गुब्बारे छोड़े जाने के बाद यह जवाबी कार्रवाई की गई ​है। वहीं अब यह खबर आ रही है कि इजरायली सेना की जिस टीम ने मंगलवार को गाजा पर हवाई हमले किए है, उसका हिस्सा गुजराती मूल की एक महिला सैनिक भी है।

अहमदाबाद मिरर के अनुसार इजरायल डिफेंस फोर्सेज की जिस टीम ने मंगलवार को गाजा पर हवाई हमले किए उस टुकड़ी में गुजराती मूल की 20 वर्षीय नित्शा मुलियाशा भी शामिल थीं। खबरों के मुताबिक नित्शा मुलियाशा मूल रूप से राजकोट के मानवादार तालुका के कोठाड़ी गांव की रहने वाली हैं। जो अब तेल अवीव में रहती हैं। नित्शा मुलियाशा इजरायली सेना की सूची में शामिल होने वाली पहली गुजराती लड़की हैं।

इसे भी पढ़ें: एंटीलिया मामला: पूर्व पुलिस अधिकारी के आवास पर की छापेमारी

वहीं नित्शा मुलियाशा के पिता जीवाभाई अपनी बेटी के बारे में बात करते हुए उनकी तरक्की का श्रेय इजरायली शिक्षा व्यवस्था को दिया। खबरों के मुताबिक नित्शा को आधुनिक हथियारों को चलाने की करने की ट्रेनिंट दी गई है। नित्शा के पिता के मुताबिक उसे सेना में 2.4 साल का कार्यकाल पूरा होने के बाद, एक अग्रीमेंट साइन करना होगा। इसके बाद उन्हें इंजीनियरिंग, मेडिसीन या अपनी मर्जी का कोर्स करने की मंजूरी मिल जाएगी। इतना ही नहीं नित्शा मुलियाशा की पढ़ाई का पूरा खर्च इजरायल की सेना वहन करेगी।

नित्शा के पिता ने बताया कि गत दो वर्षों में उसे सेना में रहते हुए लेबनान, सीरिया, जॉर्डन और मिस्र की सीमाओं पर सुरक्षा की जिम्मेदारी दी जा चुकी है। वर्तमान समय में नित्शा मुलियाशा को गुश डैन में तैनात हैं। नित्शा के पिता कहते हैं कि उन्हें अपनी बेटी पर गर्व है और उसे वह काफी याद भी करते हैं। बता दें कि 21 मई को इजरायल और गाजा के बीच सीजफायर का ऐलान हुआ था। इससे पहले दोनों तरफ से रॉकेट और मिसाइल से हमले हुए थे, जिसमें कई लोगों की जान चली गई थी।

इसे भी पढ़ें: रामू द्विवेदी को गिरफ्तार किया किसी और केस में, जेल भेजा किसी और मामले में

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें