दिल्ली पहुंची कोवीशील्ड की पहली खेप, देश के इन शहरों में भेजने का काम शुरू

0
136

पुणे। भारत में कोरोना वायरस के खिलाफ अंतिम लड़ाई आज से शुरू हो गई है। कोरोना वैक्सीन कोवीशील्ड की पहली खेप आज सुबह पुणे के सीरम इंस्टीट्यूट से एयरपोर्ट पहुंच गई है। वैक्सीन के 478 बॉक्स पहुंचने के बाद सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया ने भारत सरकार को ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका की कोविशील्ड वैक्सीन की डिलीवरी शुरू कर दी है। वैक्सीन पहली खेप पुणे स्थि​त उत्पादन केंद्र से देश के शहरों में पहुंचान के लिए रवाना हो गई है। इसी के तहत कोरोना वैक्सीन की पहली खेप दिल्ली के लिए भेजी गई, जिसे स्पाइसजेट की फ्लाइट से लाया गया। पुणे एयरपोर्ट से वैक्सीन को दिल्ली के लिए लाने वाली स्पाइसजेट की प्लाइट सुबह आठ बजे उड़ान भरी। इससे पुणे एयरपोर्ट से 15 किलोमीटर दूर स्थित सीरम इंस्टीट्यूट के उत्पादन केंद्र से तीन ट्रकों में भरकर वैक्सीन की पहली खेप को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया।

वहीं पुणे एयरपोर्ट ने ट्वीट करते हुए लिखा कि तैयार हो जाए इंडिया, इस महामारी को हराने के लिए वैक्सीन को एयरक्राफ्ट में लोड किया जा रहा है, जिससे पूरे देश में इसका वितरण हो सके। वहीं तीन तापमान नियंत्रित ट्रकों को सुबह 4 से 5 बजे से सीरम इंस्टीट्यूट के गेट से पुणे हवाई अड्डे के लिए रवाना किया गया, जहां से पूरे भारत में वैक्सीन पहुंचाए जा रहे हैं। बात दें कि सरकार ने एसआईआई से ऑक्सफोर्ड के कोविड-19 टीके ‘कोविशील्ड’ की 1.1 करोड़ खुराक खरीदने का सोमवार को ऑर्डर दिया था। प्रत्येक टीके पर जीएसटी सहित 210 रुपए का खर्च आ रहा है।

इसे भी पढ़ें: कृषि कानूनों के अमल पर सुप्रीम कोर्ट ने लगाई रोक, किसान अब भी राजी नहीं

कहां-कहां होनी है डिलीवरी

कोवीशील्ड की पहली खेप देश के दिल्ली, अहमदाबाद, चेन्नई, कोलकाता, बेंगलुरु, करनाल, हैदराबाद, विजयवाड़ा, गुवाहाटी, लखनऊ, चंडीगढ़, पटना, शिलांग, भुवनेश्वर जैसे शहरों में पहुंचने हैं। गौरतलब है भारत में बीते दिनों दो स्वदेशी वैक्सीन को आपातकालीन उपयोग के लिए मंजूरी दी गई है। इन टीकों में सीरम इंस्टीट्यूट ‘ऑक्सफोर्ड कोविशील्ड’ और भारत बायोटेक की ओर से निर्मित ‘कोवैक्सीन’ शामिल हैं।

इसे भी पढ़ें: मंत्री श्रीपद नाइक की कार दुर्घटनाग्रस्त, पत्नी और पीए की मौत, मंत्री की हालत गंभीर

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें