मतदान के दौरान शुभेंदु अधिकारी के काफिले पर हमला, बाल-बाल बचे

0
370
subhendu

नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण का मतदान आज जारी है। आज के मतदान में वह सीट भी शामिल है, जिस पर ममता बनर्जी व बीजेपी उम्मीदवार शुभेंदु अधिकारी आमने सामने हैं। पश्चिम बंगाल का नंदीग्राम सीट सबसे हाई प्रोफाइल सीट हो गई है। बता दे नंदीग्राम सीट बीजेपी नेता शुभेंदु अधिकारी का गढ़ माना जाता है। वहीं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री शुभेंदु के इस किले को ढहाने के लिए न सिर्फ नंदीग्राम से चुनाव लड़ रही हैं, बल्कि यहां डेरा जमा चुकी है। वहीं आज मतदान के दौरान बीजेपी उम्मीदवार शुभेंदु अधिकारी के काफिले पर हमला हुआ है। इस हमले में उनके कुछ समर्थकों को चोटे आईं हैं साथ ही मीडिया की गाड़ी को भी नुकसान पहुंचा है।

हमलावरों ने शुभेंदु अधिकारी के काफिले पर पत्थरबाजी की है। फिलहाल शुभेंदु अधिकारी की गाड़ी को कोई नुकसान नहीं हुआ है। जानकारी के मुताबिक प्रदर्शनकारियों ने शुभेंदु अधिकारी के काफिले पर पत्थरबाजी की, जिससे उसके पीछे चल रही मीडिया की गाड़ियों को भी नुकसान पहुंचा है। गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल में हिंसा की खबरे आम बात हो गई हैं। यहां भाजपा कार्यकर्ताओं की निर्मम हत्या का सिलसिला चुनाव के दौरान भी जारी है। हैरत की बात यह है कार्यकर्ताओं की मौत पर बीजेपी जहां इसे हत्या बताती है वहीं प्रशासन इसे आत्महत्या बताकर मामले को रफा दफा कर देती है।

इसे भी पढ़ें: व्हीलचेयर पर ‘बाहुबली’, मुख्तार ने पेशी के दौरान लगाया यह आरोप

दूसरे चरण के मतदान के दौरान नंदीग्राम से एक और खबर सामने आई है, जिसमें भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता ने खुदकुशी कर ली है। जानकारी के अनुसार नंदीग्राम के बथुआबाड़ गांव में 28 नंबर बूथ के पास बीजेपी कार्यकर्ता की लाश बरामद हुई है, बताया जा रहा है कि उसने खुदकुशी कर ली है। आत्महत्या करने वाले बीजेपी कार्यकर्ता का नाम उदय शंकर है। वहीं बीजेपी ने आरोप लगाया है कि तृणमूल कांग्रेस के आतंक की वजह से उसके कार्यकर्ता को आत्महत्या के लिए मजबूर होना पड़ा।

इसे भी पढ़ें: सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला : मुख्तार को दो हफ्ते में यूपी शिफ्ट करने का आदेश

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें