छुट्टी देने के एवज में बॉस ने महिला से मांग ली इज्जत, हुआ सस्पेंड

0
90
महिला

जोधपुर। घर से बाहर तक महिलाएं हर जगह असुरक्षित महसूस कर रही है। समय के हिसाब से महिलाओं को स्वतंत्रता तो मिली, लेकिन उनका शोषण आज भी बदस्तूर जारी है। राजस्थान के जोधपुर से इसी तरह का शर्मसार करने वाला मामला सामने आ रहा है। यहां के उत्तरी नगर निगम में काम करने वाली एक महिला सफाई कर्मचारी ने अपने निरीक्षक पर छुट्टी देने के बदले में उसकी आबरू मांगने का आरोप लगाया है। महिला सफाई कर्मचारी के अनुसार महापौर के वार्ड में लगे सफाई निरीक्षक धर्मेंद्र सिंह गहलोत से उसने अपने बीमार भाई की देखभाल के लिए एक दिन की छुट्टी मांगी थी। इस पर सफाई निरीक्षक ने छुट्टी देने के बदले उसे अपने साथ सोने को कहा। महिला ने बताया कि निरीक्षक ने उससे कहा कि वह उसे बहुत पसंद करता है। उगर वह उसकी बात मानती है तो उसे छुट्टी के साथ-साथ इलाज के लिए पैसा भी देगा।

सफाई कर्मचारी के अनुसार वह विधवा है। उसका भाई मथुरादास माथुर अस्पताल में भर्ती था, जहां उसकी हालत काफी नाजुक बनी हुई थी। भाई की देखभाल के लिए वह छुट्टी मांग रही थी। लेकिन निरीक्षक धर्मेंद्र छुट्टी के बदले में उसकी अस्मत के लिए दबाव बना रहा था। महिला ने यह भी आरोप लगाया है कि धर्मेंद्र ने बात न मानने पर उसका अटेंडेंस काट देने की भी धमकी दी है। वहीं महिला के बीमार भाई ने सोमवार की सुबह दम तोड़ दिया। ऐसे में महिला का सब्र जवाब दे गया और उसने यह सारी बात अपने साथियों को बताई। यह सुनकर सभी महिलाएं एक हो गईं और निरीक्षक धर्मेंद्र की जमकर पिटाई कर दी।

वहीं इस पूरी घटना का वीडियो भी सामने आ गया है। निगम प्रशासन ने मामले की जांच शुरू कर दी है और सफाई निरीक्षक धर्मेंद्र को मुख्य सफाई निरीक्षक कार्यालय बुलाकर उसे सस्पेंड कर दिया गया है। इस तरह की घटना सामने आने के बाद विभाग में हड़कंप मच गया है। वहीं वाल्मिकी समाज के लोग भी इस घटना के विरोध में उतर गए हैं और सफाई निरीक्षक के खिलाफ मुकदमा दर्ज किए जाने की मांग कर रहे हैं।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें