इन वास्तु दोषों से रुकती है घर की तरक्की, होता है आर्थिक नुकसान

0
123

वास्तु शास्त्र से जुड़े नियमों को अनदेखा करना नुकसान पहुंचता है। घर में आर्थिक तंगी बनी रहती है, वहीं परिवार कोई न कोई सदस्य बीमार रहता है। इसकी वजह से धन हानि होती है। वास्तु दोष की वजह से घर में नेगेटिव एनर्जी बनी रहती है, जिससे परिवार के सदस्यों में मतभेद बने रहते हैं। नीचे बताए गए वास्तु उपायों से आप अपने घर का वास्तु दोष दूर कर सकते हैं।

नल से पानी का टपकना अशुभ
घर में अगर आपके कोई नल हमेशा टपकता रहता है तो इसे शुभ नहीं माना गया है। ये बड़े आर्थिक नुकसान के संकेत होते हैं। नल से धीरे-धीरे पानी का गिरते रहना संकेत होता है अधिक धन का खर्च होना। ऐसे में बरकत रुक जाती है। अगर आपका कोई भी नल टपक रहा है तो उसे तुरंत ठीक करवाएं।

न रखें इस दिशा में कूड़ेदान
इस बात का हमेशा ध्यान रखें कि, कभी भी उत्तर-पूर्व की दिशा (ईशान कोण) कचड़ा न डालें। इस दिशा में डस्टबिन भी न रखें। इसे देवी देवताओं की दिशा माना गया है। इस दिशा में गंदगी करने से आर्थिक नुकसान होता है।

उत्तर पूर्व दिशा में न हो रुकावट
उत्तर दिशा में कुछ ऊंचा न बनवाएं। इस दिशा को समतल ही रखें, अगर आपके घर की उत्तर दिशा समतल नहीं है तो आपको धन हानि होगी। इस दिशा को साफ़ रखें और कोई भारी और ऊंची वास्तु भी न रखें।

घर में नहीं होना चाहिए टूटा हुआ फर्नीचर
अगर आपके घर में कोई ख़राब वास्तु है, टुटा हुआ फर्नीचर है। बेड टूटा हुआ है तो उसे ठीक करवा लीजिये। अगर वो ठीक नहीं हो सकता है तो उसे हटा दीजिये। इसे वास्तु में शुभ नहीं माना जाता है।

सीढ़ी के नीचे न रखें कभी कबाड़
सीढ़ी तरक्की की निशानी निशानी होती है, वास्तु के अनुसार, कभी भी सीढ़ी के नीचे कबाड़ नहीं रखना चाहिए। इसे उन्नति की राह में रुकावट माना जाता है। धन हानि भी होती है।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें