Pauranik Katha: नामदेव की श्रद्धा और भक्ति की कथा

Pauranik Katha: संत नामदेव बचपन में अपने ननिहाल में रहते थे, इनके नाना का नाम बामदेव था, जो ठाकुर जी के परम वैष्णो भक्त संत थे। बचपन में नामदेव काठ…

Lata Mangeshkar: सुर की देवी को सादर नमन

स्वर-लोक की मां, सुर-लोक की महायात्रा के लिए प्रस्थान कर गईं। हमारी मंगल-ध्वनियों, हमारी भाव-गंगोत्री को गीत करने वाला कंठ, परम विश्रांति की गोद में सो गईं। सरस्वती मां की…