आईआईटी मंडी के शोधकर्ताओं ने बनाई ऐसी सड़क, जिससे पैदा होगी बिजली

0
60

नई दिल्ली। आधुनिक दुनिया में सब कुछ संभव है, बस देरी है उसे कर दिखाने की। अब आपके सड़क पर चलने से बिजली पैदा होगी। सुनने में जरूर तो हैरान कर देने वाली बात है लेकिन ये सच है और यही भविष्य भी है। इसे इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी मंडी के रिसर्चर्स ने सच कर दिखया है। उन्होंने ऐसी सड़क बनाई है, जिस पर पैदल चलने से बिजली पैदा होती है। इस खास सड़क को बनाने वाले रिसर्चर्स की टीम लीडर डॉ. राहुल वैश का कहना है कि, बिजली पैदा करने वाली सड़क को बनाने के लिए उनकी टीम ने पीजोइलेक्ट्रिक मटेरियल का उपयोग किया है।

ये खास वास्तु है जो इलेक्ट्रिकल एनर्जी मैकेनिकल एनर्जी से बनाती है। इससे सड़क पर पड़ने वाले दबाव और खिचाव और घर्षण से पैदा होने वाली मैकेनिकल ऊर्जा को इलेक्ट्रिकल ऊर्जा में बदल जाएगी। इंडिया टाइम्स खबर के मुताबिक, डॉ. राहुल वैश का कहना है कि, इस मटेरियल को तो हर गली की सड़क में लगाना चाहिए। इससे तो बिजली की समस्या का सीधा समाधान हो सकता है। इस मटेरियल पर अभी काफी काम करना बाकी है क्योंकि इससे अभी काफी कम बिजली पैदा हो रही है। इस मटेरियल की मात्रा और ताकत दोनों को बढ़ाना होगा।

पीजोइलेक्ट्रिक मटेरियल से बनने वाली सड़क में नई तकनीक ग्रेडेड पोलिंग की मदद से डॉ. राहुल वैश और उनकी टीम ने उसकी क्षमता में बढ़ोत्तरी कर दी है। ग्रेडेड पोलिंग के कारण से पीजोइलेक्ट्रिक मटेरियल से बनने वाली सड़क में बिजली पैदा करने की क्षमता सौ गुना तक ज्यादा हो जाएगी। अब एक सड़क एक वॉट तक बिजली पैदा कर रही है। इस शोध पर आईआईटी मंडी ने भी बयान जारी करते हुए कहा है कि, शोध के नतीजे काफी पॉजिटिव रहे हैं। बदलाव की हमेशा संभवना बनी रहती है। पीजोइलेक्ट्रिक मटेरियल और ग्रेडेग पोलिंग प्रविधि से जो सड़क बनाई गई है, उससे सच में बिजली पैदा हो रही है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here