भूकंप के झटकों से हिला असम सहित पूर्वोत्तर भारत, पीएम मोदी, गृहमंत्री, प्रियंका व राहुल ने ली जानकारी

0
284

गुवाहाटी। असम और कुछ अन्य पूर्वोत्तर राज्यों में बुधवार सुबह एक के बाद एक सात बार भूकंप के झटके महसूस किए गए जिससे इमारतों को काफी नुकसान पहुंचा और लोग अपने घरों से बाहर निकल आए। क्षेत्रीय मौसम विज्ञान केंद्र (आरएमसी) के उपनिदेशक संजय ओ’नील शॉ ने बताया कि सुबह सात बजकर 51 मिनट पर आया पहला भूकंप 6.4 तीव्रता का दर्ज किया और उसका केंद्र असम में सोनितपुर जिले के जिला मुख्यालय तेजपुर से 43 किलोमीटर पश्चिम में था।

अरुणाचल के ईंटानगर से लेकर बंगाल के कूचबिहार तक झटके महसूस किए गए। साथ ही बिहार के कई जिलों में भूकंप के झटके, सुबह करीब 7:55 पर महसूस किए गए झटके। मुंगेर, कटिहार, किशनगंज, भागलपुर, पूर्णिया, खगड़िया समेत कई इलाकों में लोगों ने महसूस किए भूकंप के झटके।

इसके बाद सुबह आठ बजकर तीन मिनट, आठ बजकर 13 मिनट, आठ बजकर 25 मिनट, आठ बजकर 44 मिनट पर 4.7, 4 और दो बार 3.6 तीव्रता के भूकंप के झटके महसूस किए गए।

इसके बाद राज्य के नगांव जिले में दस बजकर पांच मिनटर पर 3.2 तीव्रता का भूकंप का झटका महसूस किया गया। इसके कुछ देर बाद 10 बजकर 39 मिनट पर तेजपुर में 3.4 तीव्रता के भूकंप का एक और झटका महसूस किया गया। सोनोवाल ने हर किसी से सतर्क रहने का अनुरोध किया और कहा कि वह सभी जिलों से जानकारियां ले रहे हैं।

पीएम ने ली नुकसान की जानकारी

Don't Fall For Rumours About Vaccines: Prime Minister Narendra Modi's Mann  Ki Baat Highlights

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल से बात की और भूकंप से हुए नुकसान के बारे में जानकारी ली। उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘असम के मुख्यमंत्री श्री सर्बानंद सोनोवाल जी से राज्य के कई हिस्सों में भूकंप के संबंध में बात की। केंद्र से हरसंभव सहायता का आश्वासन दिया है। मैं असम के लोगों के कुशलक्षेम होने की प्रार्थना करता हूं।’’ गृह मंत्री अमित शाह ने भी सोनोवाल से फोन पर बात की और उन्हें आश्वस्त किया कि केंद्र असम के लोगों के साथ मजबूती से खड़ा है।

प्रियंका—राहुल ने लोगों की सुरक्षा की कामना की

Rahul Gandhi, Priyanka Gandhi slam Centre over unemployment - OrissaPOST

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने असम के भूकंप प्रभावित इलाकों में सबकी सुरक्षा की कामना करते हुए बुधवार को कहा कि सभी लोग इस मुश्किल घड़ी में असम की जनता के साथ खड़े हैं। उन्होंने फेसबुक पोस्ट किया, ‘‘असम के लोगों के साथ मेरी प्रार्थनाएं हैं। इस भूकंप से राज्य में कोविड संकट में इजाफा होगा तथा प्रभावित लोगों तक मदद पहुंचाने में मुश्किल पेश आएगी। हम परीक्षा की इस घड़ी में आप लोगों के साथ एकजुटता से खड़े हैं।’’ कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा ने भी प्रभावित इलाकों के लोगों की सुरक्षा की कामना की। उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘असम के बहनों और भाइयों के लिए मेरा स्नेह और प्रार्थना है जो कोविड की दूसरी लहर और भूकंप के दोरी मार का सामना कर रहे हैं। प्रभावित इलाको में सभी लोगों की सुरक्षा की प्रार्थना करती हूं।’’

अरुणाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री ने किया ट्वीट

Arunachal Pradesh Cm Pema Khandu Tests Covid-19 Positive - अरुणाचल प्रदेश  के मुख्यमंत्री प्रेमा खांडू कोरोना पॉजिटिव - Amar Ujala Hindi News Live

अरुणाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री पेमा खांडू ने ट्वीट किया, ‘‘असम और अरुणाचल प्रदेश तथा पूर्वोत्तर में आज सुबह भूकंप के झटके महसूस किए गए। मैं हर किसी की सुरक्षा की प्रार्थना करता हूं। कृपया सभी अपनी और अपने प्रियजन की सुरक्षा सुनिश्चित करें। स्थिति पर तुरंत प्रतिक्रिया देने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी, गृह मंत्री अमित शाह जी और डॉ. जितेंद्र सिंह जी का आभार।’’

यहा हुआ नुकसान

Earthquake in Assam: Massive quake of 6.4 magnitude hits Northeast state -  PHOTOS - The Financial Express

भूकंप के झटके पड़ोसी अरुणाचल प्रदेश, मेघालय और पश्चिम बंगाल के उत्तरी हिस्सों समेत पूरे क्षेत्र में महसूस किए गए। लोग महामारी के बढ़ते मामलों के बीच सामाजिक दूरी और अन्य कोविड दिशा निर्देशों को नजरअंदाज करते हुए अपने घर से बाहर निकल पड़े। किसी के हताहत होने की खबर नहीं है लेकिन घबराहट की वजह से घर से बाहर निकलकर भागने के दौरान कई लोगों को मामूली चोटें आयी हैं। असम में मुख्यत: तेजपुर के मध्य और पश्चिमी शहरों, नागांव, गुवाहाटी, मंगलदोई, ढेकियाजुली और मोरीगांव में इमारतों तथा अन्य ढांचों को व्यापक नुकसान पहुंचने की खबरें हैं। सूत्रों ने बताया कि गुवाहाटी में ‘जनता भवन’ परिसर में मुख्यमंत्री के ब्लॉक, राज्य सचिवालय की इमारत को नुकसान पहुंचा है। गुवाहाटी में लग्जरी ताज विवांता में भी काफी नुकसान हुआ है। होटल की प्रवक्ता इंद्राणी फुकन ने ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया कि होटल की कांच की कई खिड़कियां, छत और दीवारें टूटकर गिर पड़ी। हालांकि गनीमत है कि किसी कर्मचारी या आगंतुक को चोटें नहीं आयी। दिसपुर हॉस्पिटल, अपोलो क्लिनिक, डाउन टाउन हॉस्पिटल और एक्सेलकेयर हॉस्पिटल जैसे स्वास्थ्य देखभाल केंद्रों में भी नुकसान हुआ। नगांव में एक बहुमंजिला इमारत झुक गई जिससे लोगों के बीच घबराहट पैदा हो गई। राज्य में कई मकानों, अपार्टमेंट इमारतों और शॉपिंग मॉल्स में भी दरारें आ गई। कई वाहन भी क्षतिग्रस्त हो गए। ढेकियाजुली के विधायक अशोक सिंघल ने जमीन में दरारें पड़ने और उनमें से पानी निकलने की तस्वीरें ट्वीट की है। हालांकि अभी इनकी पुष्टि नहीं की जा सकी है। एक अधिकारी ने बताया कि मेघालय में किसी नुकसान की कोई खबर नहीं है। हालांकि भूकंप के ये झटके पिछले कुछ वर्षों में आए सबसे जबरदस्त झटकों में से एक हैं।
अधिकारियों ने बताया कि अरुणाचल प्रदेश में भी भूकंप के जबरदस्त झटके महसूस किए गए। राज्य की राजधानी ईटानगर और पूर्वी केमेंग जिले में कुछ इमारतों में दरारें आ गई हैं।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here