District Panchayat President Election 2021: बीजेपी का बजा डंका, 75 में से 65 सीटों पर खिला कमल

0
498
BJP spectacular victory

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में संपन्न हुए जिला पंचायत अध्यक्षों के चुनाव (District Panchayat Election 2021) में बीजेपी को बड़ी सफलता मिली है। बीजेपी की आंधी में राज्य में बाकी दल हवा हो गए। सूबे की 75 में से 65 जिलों में बीजेपी के प्रत्याशी जिला पंचायत अध्यक्ष के पद जीत लिए हैं।

चुनावी नतीजों के मुताबिक पंचायत चुनावों में बीजेपी (BJP) राज्य में सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है। बीजेपी 65 जिलों में अपने अध्यक्ष बनवाने में कामयाब हुई है। वहीं समाजवादी पार्टी सबसे ज्यादा सदस्यों के जीतने के बावजूद भी केवल 6 जिलों में ही अपनी जीत दर्ज करवा पाई है। अन्य दलों के खाते में भी 4 सीटें गई आई हैं।

बाहुबली धनंजय सिंह की पत्नी बनी अध्यक्ष

जौनपुर में बाहुबली पूर्व सांसद धनंजय सिंह की पत्नी श्रीकला सिंह रेड्डी जिला पंचायत अध्यक्ष चुन ली गई है। निर्दलीय उम्मीदवार श्रीकला को अपना दल एस ने अंतिम समय में अपना समर्थन दिया। जबकि गाजीपुर में जिला पंचायत अध्यक्ष के लिए भाजपा की सपना सिंह को जीत हासिल हुई है। सपना को कुल 47 वोट मिले तथा सपा प्रत्याशी कुसुमलता को कुल 20 वोट मिले।

इसे भी पढ़ें: रिटेलर्स और होलसेल कारोबारी भी MSME के दायरे में

सपा को उसके गढ़ में ही मिली हार

जानकारी के मुताबिक औरैया में 23 जिला पंचायत सदस्यों में 22 ने वोटिंग किया है। भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी कमल दोहरे को कुल 13 वोट हासिल हुए जबकि सपा उम्मीदवार रवि त्यागी को मात्र 9 वोट मिले। मुजफ्फरनगर में भाजपा के वीरपाल निरवाल जिला पंचायत अध्यक्ष चुन लिए गए हैं। कुल 43 जिला पंचायत सदस्यों में से 34 लोगों ने वोट डाले। वहीं संतकबीरनगर में सपा प्रत्याशी बलिराम यादव जिला पंचायत अध्यक्ष का चुनाव जीत गए है। सपा प्रत्याशी बलिराम यादव को 18 मत हासिल हुए हैं।

कम अंतर से हुई हार-जीत

BJP spectacular victory

देवरिया जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव में सपा प्रत्याशी शैलजा यादव को भाजपा प्रत्याशी गिरीश चंद तिवारी ने 42 हासिल कर पराजित कर दिया है। इसी कड़ी में कुशीनगर से भाजपा की उम्मीदवार सावित्री देवी जीत गई हैं। उन्हें 61 में से 46 वोट हासिल हुए हैं। बस्ती में भाजपा के उम्मीदवार संजय चौधरी जिला पंचायत अध्यक्ष का चुनाव जीत गए हैं। उन्हें कुल 39 मत मिले, जबकि उनके प्रतिद्वंद्वी सपा के उम्मीदवार वीरेंद्र चौधरी को केवल चार वोटों से ही संतोष करना पड़ा है। बता दें कि यहां बीजेपी सांसद हरीश द्विवेदी की प्रतिष्ठा दांव पर लग गई थी। संजय चौधरी की जीत पर बीजेपी के ​वरिष्ठ नेता सत्येंद्र सिंह भोलू ने जनता को बधाई देते हुए कहा है कि यह बीजेपी की नीतियों की जीत है। कोरोना संकट काल में विपक्ष की तरफ से जनता को काफी गुमराह करने का प्रयास किया गया। लेकिन जनता पार्टी के सेवा भाव को बाखूबी समझती है।

इन जिलों में भी बीजेपी को मिली सफलता

इसी तरह महाराजगंज में भाजपा प्रत्याशी रविकांत पटेल को 38 और सपा प्रत्याशी दुर्गा यादव को मात्र 9 मत मिले। वहीं आंबेडकरनगर में भाजपा के प्रत्याशी साधु वर्मा ने जिला पंचायत अध्यक्ष पद पर एकतरफा जीत दर्ज की है। उन्हें 30 सदस्यों ने वोट किया है।

इसे भी पढ़ें: सीएम योगी और विधानसभा अध्यक्ष से मिले आईआईएमसी के महानिदेशक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें