वैक्सीन को लेकर जेपी नड्डा ने अखिलेश पर बोला हमला, बोले- जल्द ही टोपी का रंग बदल जाएगा

0
69
JP Nadda

गोरखपुर: यूपी विधानसभा चुनाव (UP Assembly Elections) को लकेर राजनीतिक दलों में वार-पलटवार तेज हो गया है। इस बीच एकबार फिर रंगों को लेकर सियासत तेज होती दिख रही है। गोरखपुर के चंपा देवी पार्क में बीजेपी के बूथ अध्यक्षों के सम्मेलन को संबोधित करते हुए राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा (JP Nadda) ने अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) का नाम लिए बगैर तीखा हमला बोला है। उन्होंने कहा कि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) जब देश की जनता से वैक्सीन लगवाने की अपील कर रहे थे कि टीका लगवा लीजिए कोरोना से मुक्त हो जाइए, मैं तुम्हें एक नहीं दो-दो वैक्सीन दे रहा हूं। तो एक नेता कहते थे कि यह भाजपा की वैक्सीन (Corona Vaccine) है, नहीं लगवाऊंगा। अब किसकी वैक्सीन (Corona Vaccine) लगवाकर घूम रहे हैं, जो वैक्सीन लगी है वह भाजपा की वैक्सीन है, पीएम मोदी की वैक्सीन है।

बीजेपीके राष्ट्रीय अध्यक्ष (JP Nadda) ने कहा कि जनता को गुमराह करने वाले की टोपी भी जल्द लाल से भगवा होने वाली है। देश के साथ जो लोग गलत करते हैं, चुनाव में ऐसे लोगों के सबक सिखाने का मौका मिलता है। जनता ऐसे लोगों को जरूर सबक सिखाती है। केंद्र और राज्य सरकार की उपलब्धियों का बखान करते हुए नड्डा (JP Nadda) ने कहा, देश में कोरोना का पहला मरीज 2020 में मिला था। प्रधानमंत्री (Narendra Modi) ने अप्रैल 2020 में ही इसके लिए हाईपॉवर कमेटी बना दी थी। नौ महीने के अंदर ही देश में दो-दो कोरोना की वैक्सीन बन गई। देश के 116 करोड़ लोगों का वैक्सीनेशन हो चुका है।

इसे भी पढ़ें: Gallantry Awards 2021: अभिनंदन का ‘वीर चक्र’ से अभिनंदन

उत्तर प्रदेश 14.54 करोड़ लोगों को टीकाकरण के साथ देश का सबसे बड़ा राज्य बन चुका है। देश के लोगों का टीकाकरण के साथ हमने दुनिया की भी मदद की। उन्होंने कहा कि जापानी इंसेफेलाइटिस से पूर्वांचल में हर साल सैकड़ों बच्चों की जान चली जाती थी। जबकि इसका टीका दुनिया में 1930 में ही आ चुका था, लेकिन भारत में वर्ष 2006-07 में तब आया जब योगी जी ने इसे संसद में बतौर सांसद के रूप में उठाया। इसी तरह टिटनेस का टीका भी दुनिया में वर्ष 1924-25 में आ गया था। लेकिन भारत में यह 1948 में आया और राष्ट्रीय स्वास्थ्य कार्यक्रम में 1978 में शामिल किया गया।

इसे भी पढ़ें: दिनेश शर्मा ने किया विश्व व्यवस्था का पुरजोर समर्थन

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here