भाविना ने रचा इतिहास : कल गोल्ड के लिए पेश करेंगी दावेदारी

0
409

टोक्यो। टोक्यो पैरालंपिक खेलों के महिला एकल वर्ग 4 के सेमीफाइनल में भारतीय पैडलर भाविना पटेल ने शनिवार को वर्ल्ड नंबर 3 खिलाड़ी चीन की झांग मियाओ को 3-2 से हराकर इस प्रतियोगिता के फाइनल में जगह बना ली है। पहली बार पैरालंपिक खेलों में भाग ले रहीं भाविना अब रविवार को गोल्ड मेडल के लिए दावेदारी पेश करेंगी। जहां उनका सामना चीनी खिलाड़ी झोउ यिंग से होगा। भाविना की इस उपलब्धि पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उन्हें बधाई दी है। पैरालंपिक में भारत के अब तक 12 पदक कुल तीन खेलों–एथलेटिक्स, पावरलिफ्टिंग और तैराकी से आए हैं, ऐसे में भाविना के पदक जीतते ही भारत पैरालंपिक खेलों में अब टेबल टेनिस प्रतियोगिता में भी पदक जीत लेगा। प्रतियोगिता के फाइनल में पहुंचने के साथ ही भाविना ने भारत के लिए टोक्यो पैरालंपिक गेम्स में पहला मेडल पक्का कर दिया है। 34 वर्षीय भावना ने पहला गेम 7-11 से हारने के बाद रियो पैरालंपिक खेलो की रजत पदक विजेता मियाओ को 7-11, 11-7, 11-4, 9-11, 11-8 से लगातार सेटों में हराकर शानदार वापसी की और इस प्रतियोगिता के फाइनल में जगह बनाई। फाइनल में भाविना का सामना चीनी खिलाड़ी झोउ यिंग से होगा, जिन्होंने दूसरे सेमीफाइनल में गु शियाओदान को 11-4, 11-3, 11-6 से हराया था। अगर भाविना रविवार को आयोजित होने वाले फाइनल मुकाबले को जीतती हैं, तो वह पैरालंपिक खेलों में स्वर्ण पदक जीतने वाली पहली भारतीय महिला और कुल चौथी खिलाड़ी बन जाएंगी। वह तैराक मुरलीकांत पेटकर (1972), भाला फेंक खिलाड़ी देवेंद्र झाझरिया (2004, 2016) और हाई जम्पर मरियप्पन थंगावेलु (2016) के बाद पैरालंपिक खेलों में भारत के लिए स्वर्ण पदक जीतने वाली चौथी खिलाड़ी होंगी।

प्रधानमंत्री मोदी ने दी बधाई 

भाविना की इस उपलब्धि पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उन्हें बधाई दी है। पीएम मोदी ने अपने ट्विटर अकाउंट पर लिखा, “बहुत-बहुत बधाई भाविना पटेल! आपने शानदार प्रदर्शन किया। पूरा देश आपकी सफलता के लिए प्रार्थना कर रहा है और कल के मुकाबले में भी आपके साथ खड़ा रहेगा। आप बिना किसी दबाव के अपना श्रेष्ठ प्रदर्शन करें, आपकी खेल भावना हर किसी को प्रेरित करती है।

बोलीं भाविना, गोल्ड के लिये अपना 100 पर्सेंट दूंगी

व्हीलचेयर पर खेलने वालीं भाविना ने कहा, ‘अगर मैं इस आत्मविश्वास को कायम रख पाई तो देश के लोगों की दुआओं की मदद से, मुझे लगता है कि कल मैं गोल्ड जीत जाऊंगी। मैं फाइनल के लिए तैयार हूं और इसमें भी अपना 100 पर्सेंट दूंगी।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें