कर्मचारियों ने 30 नवम्बर की महारैली के लिये तेज किया सम्पर्क अभियान

0
22
State Employees Joint Council

बस्ती: शनिवार को 11 सूत्रीय मांगों को लेकर कर्मचारी शिक्षक अधिकारी एवं पेशनर्स अधिकार मंच उप्र के आवाहन पर 30 नवम्बर को लखनऊ के ईको गार्डन पार्क में होने वाले महारैली को सफल बनाने के लिए राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के जिला वरिष्ठ उपाध्यक्ष राम अधार पाल के नेतृत्व में कोषागार, जिला पंचायत, कलेक्ट्रेट, व्यापारकर, आबकारी, जिलापूर्ति, कृर्षि कार्यालयों में कर्मचारियों से जन सम्पर्क कर पोस्टर पर्चा वितरण किया गया। कर्मचारी नेताओं ने आगामी 30 नवम्बर को लखनऊ में होने वाली महारैली में हिस्सा लेने का आग्रह किया। कर्मचारियों में रैली में हिस्सा लेने को लेकर विशेष उत्साह देखा जा रहा है।

राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के जिला वरिष्ठ उपाध्यक्ष राम अधार पाल ने बताया कि पुरानी पेशंन की बहाली, कैशलेस चिकित्सा योजना को लागू किये जाने,राज्य कर्मचारियो को 8, 16, 24 वर्ष की सेवा पर तीन पदोन्नति पद का ग्रेड वेतन दिये जाने,समस्त कर्मचारियों का 300 दिनों का उपार्जित अवकाश के स्थान पर 600 दिनों का उपार्जित अवकाश किये जाने एवं सेवा निवृत्त होने पर नगद भुगतान करने, सातवें वेतन आयोग की संस्तुति जारी करने तथा वेतन विसगंतियों को दूर किये जाने, पंचायत राजविभाग के सफाई कर्मचारियों को ग्राम प्रधानों से मुक्त करने सेवा नियमावली बनाये जाने तथा प्रदोन्नति किये जाने आदि मांगों को लेकर कर्मचारी, शिक्षक आन्दोलित हैं।

इसे भी पढ़ें: नगर पालिका परिषद बोर्ड की बैठक में रैन बसेरों के प्रबंध का निर्देश

कर्मचारियों से सम्पर्क के दौरान राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के जिला मंत्री तौलू प्रसाद ने कहा कि सरकार कर्मचारियों के उत्पीड़न कर रही है, मांगों को अनसुना किया जा रहा है, कर्मचारी एक जुट होकर रैली में हिस्सा लें। कार्यालयों के जनसम्पर्क में अशोक मिश्रा, फैजान अहमद, अखिलेश पाठक, आलोक श्रीवास्तव, उमारमण त्रिपाठी, रणज्य सिंह, रंगीलाल, राधेश्याम जायसवाल, सरोज मिश्रा, प्रदीप यादव, उपेन्द्र सिंह आदि शामिल रहे।

इसे भी पढ़ें: लड़की का अश्लील वीडियो के चक्कर में हुई थी रोहित की हत्या

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here