परमबीर सिंह भगोड़ा घोषित होने के बाद क्राइम ब्रांच के समक्ष हुए पेश

0
21
Parbir Singh

मुंबई: मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर परबीर सिंह (Parambir Singh) क्राइम ब्रांच (crime branch) के समक्ष अपनी सफाई देने के लिए पेश हो गए हैं। वह आज कोर्ट में भी पेश हा सकते हैं। वहीं क्राइम ब्रांच (crime branch) ने जबरन वसूली के मामले में परमबीर सिंह (Parambir Singh) से करीब 7 घंटे तक पूछताछ की है। बता दें कि परमबीर सिंह (Parambir Singh) पर लगे जबरन वसूली करने के आरोपों की जांच क्राइम ब्रांच कर रही है। परमबीर सिंह (Parambir Singh) के वकील ने बताया है कि उन्होंने क्राइम ब्रांच (crime branch) के सामने अपना बयान दर्ज कराया है। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के अनुसार वह जांच में पूरा सहयोग कर रहे हैं।

खबरों के मुताबिक परमबीर सिंह (Parambir Singh) ने कहा है कि वह सुप्रीम कोर्ट के आदेश के मुताबिक जांच में शामिल हुए हैं। उन्होंने कहा कि वह जांच में पूरा सहयोग कर रहे हैं और उन्हें न्यायालय पर पूरा भरोसा है। बता दें कि गिरफ्तारी से बचने के लिए परमबीर सिंह (Parambir Singh) ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल कर सुरक्षा की मंग की थी। इस पर सर्वोच्च न्यायालय ने उनकी गिरफ्तारी पर रोक लगा दी थी।

इसे भी पढ़ें: पूर्व आईजी हरिभजन सिंह ने मेडल स्मृति चिन्ह देकर किया सम्मानित

गौरतलब है कि गत दिनों मुख्य महानगर दंडाधिकारी कोर्ट ने परमबीर सिंह (Parambir Singh) को फरार घोषित (Absconding) कर दिया था। क्राइम ब्रांच की अर्जी के आधार पर कोर्ट ने परमबीर सिंह (Parambir Singh) को फरार घोषित किया था। इसके बाद मंगलवार को ही पुलिस ने जुहू स्थित उनके फ्लैट के बाहर कोर्ट का आदेश चस्पा कर दिया था।

कोर्ट के समक्ष क्राइम ब्रांच (crime branch) ने परमबीर सिंह के फरार होने की अर्जी दी थी, इसी अर्जी को मंजूर करते हुए कोर्ट ने परमबीर सिंह को फरार घोषित कर दिया था। इसके अलावा परमबीर सिंह (Parambir Singh) को 30 दिनों के अंदर हाजिर होने के लिए भी कहा गया था। बता दें कि मुंबई के गोरेगांव की एक वसूली के मामले में मुंबई क्राइम ब्रांच ने उन्हें कई बार सम्मन भेजा था, लेकिन वह हाजिर नहीं हुए।

कोर्ट ने परमबीर सिंह (Parambir Singh) के साथ विनय सिंह और रियाज भाटी को भी फरार घोषित किया है। मुंबई और ठाणे में परमबीर सिंह पर वसूली के कई मामले दर्ज हैं। बार-बार समन जारी करने के बावजूद भी जब परमबीर सिंह हाजिर नहीं हुए तो क्राइम ब्रांच ने अतिरिक्त मुख्य महादंडाधिकारी न्यायालय को उन्हें फरार घोषित किए जाने की अपील की थी। कोर्ट ने क्राइम ब्रांच की इस अपील को मंजूर करते हुए परमबीर सिंह को फरार घोषित कर दिया। इसके बाद जुहू स्थित परमबीर सिंह के फ्लैट पर उनके फरार होने की नोटिस को चस्पा कर दिया गया था।

इसे भी पढ़ें: कांग्रेस शुरू करेगी सदस्यता महाअभियान

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here