परसपुर पुलिस नहीं दर्ज कर रही छेड़छाड़ का मुकदमा, खौफ में पीड़िता

0
435
rape

गोंडा: महिला सुरक्षा को लेकर योगी सरकार जितनी गंभीरता दिखा रही है, यूपी पुलिस उतनी ही संवेदनहीन बनी हुई है। गोंडा जनपद के परसपुर थाना क्षेत्र की सकरौर पुरे अंबर गांव निवासी महिला छेड़छाड़ के आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई को लेकर थाने का चक्कर लगा रही है। लेकिन परसपुर पुलिस आरोपियों पर कार्रवाई तो दूर मामला दर्ज करने को तैयार नहीं है। पीड़िता ने पुलिस के अन्य वरिष्ठ अधिकारियों से इंसाफ की गुहार लगाई है।

पीड़िता के अनुसार गोंडा जनपद के सकरौर पुरे अंबर पुरवा गांव के उसके बगल रहने वाले नान बाबू ने 26 अप्रैल को उसके घर में घुस कर उसके साथ दुष्कर्म करने की कोशिश की। इस दौरान आरोपी ने उसके साथ छेड़छाड़ करते हुए उसके कपड़े फाड़ डाले। शोर मचाने पर उसकी सास राज कुमारी उसे बचाने आई तो नान बाबू ने उनका गला पकड़ कर जमीन पर पटक दिया। जिससे उनकी कमर की हड्डी टूट गई। सास का इलाज चल रहा है।

इसे भी पढ़ें: सिपाही ने महिला से किया दुष्कर्म

पीड़िता ने इसकी शिकायत परसपुर थाने में दी, लेकिन घटना हुए करीब एक महीने होने को है, पुलिस ने अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की। जिसके चलते पीड़िता का परिवार दहशत में है। पीड़िता का आरोप है कि आरोपी आए दिन उसे जान से मारने की धमकी दे रहा है। पुलिस की तरफ से कोई कार्रवाई न होने से आरोपी खुलेआम घूम रहा है, जिससे उसका परिवार खौफ में है कि कही कोई अनहोनी न हो जाए।

इसे भी पढ़ें: दो लाख रुपए के लिए पत्नी को दिया तलाक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें