रवि के रजत से भारत रोशन, पीएम मोदी ने दी बधाई

0
406

टोक्यो। भारत के पहलवान रवि कुमार दहिया को ओलंपिक के पुरुष फ्रीस्टाइल 57 किग्रा भार वर्ग के फाइनल मुकाबले में रूस ओलंपिक समिति के जायूर उगयेव के हाथों 4-7 से हार का सामना करना पड़ा। वहीं हार के बावजूद रवि दहिया ने भारत को रजत पदक दिलाने में कामयाबी हासिल की। रवि सेमीफाइनल में पीछे होने के बावजूद कजाकिस्तान के नूरइस्लाम सनायेव को हराकर फाइनल में प्रवेश कर भारत के लिए पदक पक्का कर लिया था।

फाइनल मुकाबले के पहले पीरियड में उगयेव ने दो अंक लिए। लेकिन रवि ने तुरंत वापसी की और दो अंक बटोर स्कोर बराकर किया। हालांकि, फिर उगयेव ने दो अंक लेकर 4-2 की बढ़त ली। इसके बाद दूसरे पीरियरड में भी उगयेव ने एक अंक लिए। फिर उगयेव ने दो और अंक हासिल कर स्कोर 7-2 कर दिया। हालांकि, रवि ने एक बार फिर वापसी की और दो अंक बटोर फासला कम कर लिया। लेकिन उनकी यह कोशिश मुकाबला जीतने के लिए काफी नहीं रही और उन्हें इस हार के साथ रजत पदक से संतोष करना पड़ा।

भारत को आप पर गर्व है—पीएम मोदी

Narendra Modiरवि की इस ऐतिहासिक जीत पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उनको फोन करके बधाई दी और उनके प्रदर्शन की जमकर तारीफ की। पीएम नरेंद्र मोदी ने रवि और उनके कोच अनिल मान से बात की। पीएम ने कहा, ‘भारत को आप पर गर्व है और आपकी ये सफलता पूरे देश को प्रेरित करेगी।’ उन्हें रवि को उनकी कड़ी मेहनत के लिए बधाई दी और यह भी कहा कि वह 15 अगस्त को व्यक्तिगत रूप से उन्हें बधाई देने को उत्सुक हैं। बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूरे देश को स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर ओलंपिक जाने वाले सभी खिलाड़ियों को लाल किले पर आमंत्रित किया है। ओलंपिक जाने से पहले भी पीएम ने खिलाड़ियों से बातचीत की थी।

4 करोड़ रुपये का ईनाम देगी हरियाणा सरकार

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने पहलवान रवि कुमार दहिया को रजत पदक जीतने पर बधाई दी। मुख्यमंत्री खट्टर ने राज्य की नीति के अनुसार पहलवान को प्रथम श्रेणी की सरकारी नौकरी के साथ-साथ 4 करोड़ रुपये का इनाम देने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि रवि कुमार के पैतृक स्थान सोनीपत जिले के नहरी गांव में एक इनडोर कुश्ती स्टेडियम बनाया जाएगा। खट्टर ने यह भी कहा कि दहिया ने न केवल हरियाणा का दिल जीता है, बल्कि पूरा देश उनकी उपलब्धि से उत्साहित है। मुख्यमंत्री ने कहा, मैं कामना करता हूं कि आप सफलता की नई ऊंचाइयां हासिल करें।

कांस्य पदक की दौड़ से बाहर हुईं विनेश

दो बार की विश्व चैम्पियन बेलारूस वेनेसा कालाजिंसकाया के महिला फ्रीस्टाइल 53 किग्रा भार वर्ग के सेमीफाइनल में हारने के साथ ही भारत की महिला पहलवान विनेश फोगाट के रेपेचेज राउंड में पहुंचने की उम्मीद टूट गई और वह कांस्य पदक की दौड़ से बाहर हो गईं। माकुहारी मेसे हॉल एक के मैट-बी पर हुए क्वार्टर फाइनल मैच में विनेश को वेनेसा ने 9-3 से हराया था। यह मुकाबला हारने के बावजूद वह कांस्य पदक जीत सकती थीं लेकिन उसके लिए वेनेसा को अपना सेमीफाइनल मुकाबला जीतने की जरूरत थी। हालांकि, वेनेसा को चीन की कियानयू पांग के हाथों हार का सामना करना पड़ा।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें