शादी के बंधन में बंधी मलाला यूसुफजई, कट्टरपंथियों ने सिर में मारी थी गोली

0
99
Malala Yousafzai

लंदन: महिला शिक्षा की आवाज बुलंदकर कट्टरपंथियों के निशाने पर आने वाली मलाला यूसुफजई शादी के बंधन में बंध गई हैं। उन्होंने अपनी शादी की तस्वीरों को शेयर कर यह जानकारी दी है। पाकिस्तान की मूल निवासी मलाला यूसुफजई तालिबानी फरमान का विरोध कर उस वक्त चर्चा में आ गई थीं जब तालिबान बंदूकधारी ने उनके सिर में गोली मार दी थी। हालांकि मलाला जिंदगी की जंग जीत कर कट्टरपंथियों के सामने फिर से सिर उठाकर महिला हक और अधिकार की बात करने लगीं। महिला शिक्षा के अधिकार की मांग करने पर तालिबान ने वर्ष 2012 में मलाला के सिर में गोली मारी थी।

जिंदगी की जंग जीतने पर मलाला को वर्ष 2014 में नोबेल शांति पुरस्कार से नवाजा गया था। इसी के साथ ही मलाला सबसे कम उम्र में नोबेल शांति पुरस्कार पाने वाली व्यक्ति बनी। मलाला भारत में चल रहे किसान आंदोलन को लेकर हाल ही में सोशल मीडिया में अपना पक्ष रखा था। मलाला यूसुफजई ने शादी की फोटो ट्वीट करते हुए लिखा है कि आज मेरी जिंदगी का सबसे अनमोल दिन है। मैं और असर मलिक जिंदगी भर के साथी हो गए हैं। हमने अपने परिवार की मौजूदगी में बर्मिंघम में निकाह कर लिया है। हम आगे का सफर करने के लिए उत्साहित हैं। हमें आशीर्वाद दीजिए।

इसे भी पढ़ें: आतं​कवादियों ने की सेल्समैन की गोली मारकर हत्या

मलाला ने अपने पति के बारे में कोई और जानकारी साझा नहीं की है, जिसके चलते यह कयासबाजी तेज हो गई है कि कौन है असर मलिक? सोशल मीडिया में कायसबाजी हो रही है कि असर मलिक लाहौर शहर के पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के हाई परफॉर्मेंस सेंटर के महाप्रबंधक हैं। फिलहाल अभी तक असर मलिक की वास्तविक पहचान उजागर नहीं हो पाई है। बता दें कि लड़कियों की शिक्षा को लेकर आवाज उठाने पर पाकिस्तान की मानवाधिकार कार्यकर्ता मलाला यूसुफजई को तालिबानी आतंकियों ने वर्ष 2012 में स्वात घाटी में स्कूल से लौटते वक्त सिर में गोली मार दी थी। मलाला को तत्काल इलाज के लिए इंग्लैंड के शहर बर्मिंघम लाया गया था। ठीक होने के बाद मलाला ने फिर स्कूल जाना शुरू कर दिया था।

इसे भी पढ़ें: सगाई होते ही बोल्ड हो गईं Alanna Panday

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here