Kanpur Accident: तालाब में गिरी ट्रैक्टर-टाली, 27 श्राद्धालुओं की मौत, शराब के शौक ने ली जान

0
152
Kanpur accident

Kanpur Accident: उत्तर प्रदेश के कानपुर (Kanpur) में शनिवार देर शाम बड़ा सड़क हादसा हो गया। इस हादसे में श्रद्धालुओं से भरी हुई ट्रैक्टर-ट्रॉली पलट (Tractor-Trolley Accident) जाने के कारण मौके पर 22 लोगों की और 5 की अस्पताल में मौत हो गई। जबकि घटना में कई अन्य लोग घायल हैं। सभी घायलों का अस्पताल में इलाज जारी है, जिन में कुछ लोगों की हालत काफी गंभीर बताई जा रही है। ये सभी श्रद्धालु नवरात्रि (Navratra) के अवसर पर उन्नाव के चंद्रिका देवी मंदिर (Chandrika Devi Mandir) से दर्शन करके कोरथा अपने गांव लौट रहे थे।

घटना की जानकारी होने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गहरा दुख जताते हुए मृतकों के परिजनों व घायलों को मुआवजा देने का एलान किया है। उत्तर प्रदेश राज्य सरकार ने मृतकों के परिजनों के लिए 2-2 लाख रुपये और घायलों के लिए 50 हजार रुपये सहायता राशि देने की घोषणा की है। जानकारी के मुताबिक ट्रैक्टर में 45 से 50 लोग सवार थे। कानपुर हादसे की खबर आते ही हर तरफ मातम छा गया। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तक ने इस हादसे में गहरा दुख व्यक्त किया है।

शराब के शौक के चलते हुआ हादसा

श्रद्धा और शराब का मिश्रण अक्सर हादसों का कारण बनते हैं। बताया जा रहा है ट्रैक्टर चालक ने शराब के शौक के चलते 27 लोगों की जिंदगियों के साथ खिलवाड़ कर डाला। ट्रैक्टर चालक नशे में होने के चलते अपना होश खो बैठा और ट्रॉली अनियंत्रित होकर तालाब में जा गिरी। इस हादसे में 22 लोग की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि पांच लोगों ने अस्पताल में दम तोड़ दिया। हादसे की सूचना पर कमिश्नर, डीएम, एसपी कानपुर आउटर समेत अन्य वरिष्ठ अधिकारी मौके पर पहुंचे। ग्रामीणों की मदद से पुलिस ने तालाब से लोगों के शव किसी तरह निकालने शुरू किए।

मरने वालों में सबसे ज्यादा महिलाएं व बच्चे शामिल

इस हादसे में मरने वालों में सबसे ज्यादा बच्चे और महिलाएं शामिल हैं। जानकारी के मुताबिक सभी चंद्रिका देवी मंदिर (Chandrika Devi Mandir) से मुंडन कराकर गांव वापस लौट रहे थे। राजू निषाद ट्रैक्टर चला रहा था। हादसे में घायल एक महिला के मुताबिक चंद्रिका देवी मंदिर से चलने के बाद कुछ दूरी पर रास्ते में एक देशी शराब का ठेका पड़ा। वहां पर ट्रैक्टर ट्रॉली रोककर सभी पुरुषों ने शराब पी। इसके बाद ट्रैक्टर चालक राजू तेजी से लहराकर चलाना शुरू कर दिया। महिला के अनुसार कई बार चालक को टोका भी गया पर वह नहीं माना। रास्ते में हरदेव बाबा मंदिर के पास वह लोग पहुंचे थे तभी ट्रैक्टर अनियंत्रित हो गया और किनारे खड्ड में जा गिरा। बताया जा रहा है कि बारिश के पानी की वजह से खड्डा तालाब के रूप में तब्दील हो चुका है।

इसे भी पढ़ें: 5G नहीं अब 5G की मिलेगी स्पीड, जानें क्या आएंगे बदलाव

डूबने और दम घुटने से गई जान

बताया जा रहा है ट्रॉली में सवार जिन 27 श्रद्धालुओं की मौत हुई है उन सभी की पानी में डूबने और दम घुटने से हुई है। ट्रॉली तालाब में गिरने से कई श्रद्धालु उसके नीचे दब गए थे, जबकि कई लोग पानी में डूब गए। ट्रॉली के नीचे दबने से लोगों का दम घुट गया। जब तक लोगों ने राहत बचाव कार्य शुरू किया, तब तक उनकी जान जा चुकी थी।

मृतकों के परिजनों को चार लाख व घायलों को 50 हजार का मुआवजा

कानपुर हादसे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर गहरा दुख जताया है। उन्होंने इस हादसे में मरने वाले के परिजनों को दो-दो लाख रुपये देने की घोषणा की है। उधर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी हादसे पर दुख जताया है। उन्होंने मरने वाले के परिजनों को दो-दो लाख और घायलों को 50-50 हजार रुपये मुआवजा देने का की घोषणा की है।

इसे भी पढ़ें: लापता लड़की के पिता की पुलिस नहीं सुन रही फरियाद

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें