महिला मित्र के साथ होटल के कमरे में मिला इंस्पेक्टर, पत्नी ने काटा हंगामा

0
498
inspector celebrating Rangraliya

कानपुर: पुलिस ऐसा विभाग बन गया है, जहां शायद ही ऐसा कोई अपराध हो जो न होता हो। मामला दब जाता है, क्योंकि खाकी के सामने सारे नियम कानून बौने हो जाते हैं। हाल के दिन में पुलिस महकमे पुलिस अफसरों के महिला मित्रों के किस्से कुछ ज्यादा ही बढ़ गए हैं। अफसरों के महिला सहयोगियों के साथ होटल में मिलना, स्विमिंग पूल में मस्ती करने के कई मामले आ चुके हैं। वहीं कानपुर के ग्वालटोली थाने में तैनात अतिरिक्त इंस्पेक्टर को उसकी पत्नी ने होटल के कमरे में रंगेहाथ पकड़ा है। इस दौरान दोनों में जमकर मारपीट हुई, इंस्पेक्टर ने गर्लफ्रेंड का साथ देते हुए पत्नी के साथ मारपीट की।

होटल में पति, पत्नी और वो के बीच हुई मारपीट का मामला सड़क तक आ गया। बताया जा रहा है कि मामले की जानकारी होने पर पुलिस कमिश्नर ने इंस्पेक्टर को निलंबित कर दिया और मामले की जांच एसीपी कर्नलगंज त्रिपुरारी पांडेय को सौंप दी है। बता दें कि आरोपी अरुण कुमार ग्वालटोली थाने में अतिरिक्त इंस्पेक्टर के पद पर तैनात था। रविवार की रात को वह मैकराबर्टगंज ढलान पर स्थित एक होटल में अपने महिला मित्र के साथ रुका हुआ था। जानकारी के मुताबिक उसकी महिला मित्र फर्रुखाबाद की रहने वाली है।

इसे भी पढ़ें: CRPF के जवान ने साथियों पर चलाई गोली

पति के महिला मित्र के साथ होटल में होने की जानकारी कन्नौज निवासी उसकी पत्नी को किसी ने दे दी। पत्नी रात में ही अपने परिजनों के साथ होटल पहुंच गई और पति को उसकी गर्लफ्रेंड के साथ रंगेहाथों पकड़ लिया। फिर क्या था दोनों तरफ से लात घूसे चलने शुरू हो गए और मारपीट का यह मामला होटल के कमरे से निकल कर सड़क पर आ गया। हंगामा होने पर आसपास के लोग भी इकट्ठा हो गए। सूचना पर पहुंची ग्वाटोली पुलिस ने तीनों को थाने ले आई। मामले की जानकारी पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों को लगते ही हड़कंप मच गया।

पुलिस कमिश्नर ने इंस्पेक्टर की रिपोर्ट तलब कर प्राथमिक रिपोर्ट के आधार पर इंस्पेक्टर अरुण कुमार को निलंबित कर दिया है। बताया जा रहा है कि इस्पेक्टर अरुण कुमार रसिया मिजाज का है, उसके कई महिलाओं से संबंध हैं। एसीपी त्रिपुरारी पांडेय ने बताया कि अतिरिक्त इंस्पेक्टर के कई अन्य महिलाओं से संपर्क की बात सामने आ रही है। पत्नी की तरफ से तहरीर दी गई है। मामले की जांच शुरू कर दी गई है और रिपोर्ट जल्द से जल्द पुलिस कमिश्नर को सौंप दी जाएगी।

इसे भी पढ़ें: जिला जेल में कैदियों ने जमकर काटा बवाल

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here